नई दिल्ली, जेएनएन। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार के सचिव आदित्य वर्मा ने बिहार की रणजी टीम में शामिल क्रिकेटरों पर कई आरोप लगाए हैं। वर्मा की माने तो टीम में कई बाहरी क्रिकेटर हैं जो बिना एनओसी के बिहार की रणजी टीम में खेल रहे हैं।

20 नवंबर को बिहार में पुडुचेरी के खिलाफ होने वाले मुकाबले से पहले वर्मा ने बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के मीडिया कमेटी के पूर्व चेयरमैन संजीव कुमार मिश्र को इसकी जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने क्रिकेटरों के बारे में जानकारी पुडुचेरी क्रिकेट संघ के अध्यक्ष अरुण कुमार को दी। अरुण ने इस संबंध में बीसीसीआइ को मेल करके इस मामले की जांच करने की मांग की है।

वर्मा की मानें तो आशुतोष अमन बिहार के उप कप्तान हैं और वह सर्विसेज के लिए पिछले वर्ष खेले थे। वह नौकरी अभी भी कर रहे हैं और बिना एनओसी के बिहार से खेल रहे हैं। वहीं हर्ष विक्रम सिंह भी दिल्ली से हैं और उन्होंने गलत प्रमाणपत्र पेश किए और अब बिहार से रणजी खेल रहे हैं। वहीं विवेक मोहन भी हैदराबाद से हैं और वह बिना किसी एनओसी के बिहार की टीम में खेल रहे हैं।

वर्मा ने कहा कि बिहार को इतने वर्षो बाद क्रिकेट खेलने का मौका मिल रहा है। बिहार के क्रिकेटर बेहद उत्साहित थे कि वह अब अपने प्रदेश की टीम में खेल पाएंगे, लेकिन बिहार के क्रिकेटरों को मौका नहीं मिल रहा है और बाहरी क्रिकेटर बिहार की टीम में जगह बना रहे हैं। मुहम्मद कैफ तिवान बिहार का बेहद ही अच्छा क्रिकेटर है, लेकिन उसको भी टीम में शामिल नहीं किया गया।

 

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप