मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

लाहौर, जेएनएन। बीते साल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले दक्षिण अफ्रीका के स्टार खिलाड़ी ए बी डिविलियर्स ने पुष्टि करते हुए कहा है कि वह इस साल पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) की अपनी टीम लाहौर कलंदर्स के दो मैच लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में खेलने को तैयार हैं।

कलंदर्स ने डिविलियर्स को बीते साल नवंबर में ड्राफ्ट में खरीदा था, लेकिन उनका करार सिर्फ फ्रेंचाइजी के सात लीग मैचों तक का था जो संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेले जाने थे। अब डिविलियर्स ने कहा है कि वह बाकी के दो मैच जो लाहौर में होने हैं उनके लिए भी उपलब्ध रहेंगे।

डिविलियर्स ने कहा कि, 'मैं इस बात को बताते हुए खुश हूं कि मैं नौ और 10 मार्च को लाहौर कलंदर्स के घरेलू मैचों में उपलब्ध रहूंगा। मैं एक बार फिर गद्दाफी स्टेडियम में खेलने और लाहौर कलंदर्स को खिताब तक पहुंचाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हूं।'

साल 2009 में पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम पर हुए आतंकवादी हमले के बाद से पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय मैचों का सिलसिला रूक गया था। बीते दौर में हालांकि कुछ टीमों ने वहां क्रिकेट खेली है लेकिन कोई बड़ी टीम अभी भी पाकिस्तान नहीं गई है। डिविलियर्स बीते वर्षो में पाकिस्तान में खेलने वाले बड़े नामों में से एक होंगे। डिविलियर्स ने पाकिस्तान में अपना आखिरी मुकाबला 2007 में खेला था। उस दौरे पर उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ लाहौर में खेले गए पहले वनडे मैच में शतक जमाते हुए नाबाद 103 रन बनाए थे। डिविलियर्स अब 11 साल बाद पाकिस्तान की धरती पर खेलते हुए नज़र आएंगे।

उन्होंने कहा, 'मैं इस बात से भलीभांति परिचित हूं कि क्रिकेट पाकिस्तान में दूसरा धर्म है। मुझे अभी भी साल 2007 में यहां मिला समर्थन याद है। मुझे लगता है कि मैं पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी में रोल अदा कर सकता हूं।'

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप