कोलकाता। भारतीय तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी के खिलाफ कोलकाता पुलिस में गुरुवार को अलीपुर कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है। शमी पर भारतीय दंड संहिता की धारा 498 ए (दहेज उत्पीड़न) और 354 ए (यौन उत्पीड़न) के तहत आरोप लगाते हुए आरोपपत्र दाखिल किया गया है।

गौरतलब है कि शमी की पत्‍‌नी हसीन जहां ने पिछले साल उनपर यौन उत्पीड़न, घरेलू हिंसा और मैच फिक्सिंग जैसे गंभीर आरोप लगाए थे। मैच फिक्सिंग का आरोप लगने के बाद बीसीसीआइ ने उनका सालाना कॉन्ट्रेक्ट भी रोक दिया था, लेकिन जांच के बाद जब कुछ नहीं मिला तो बीसीसीआइ ने शमी को क्लीन चिट देते हुए कॉन्ट्रेक्ट में शामिल कर लिया था।

दूसरी औरतों से संबंध का लगाया था आरोप
छह मार्च 2018 को हसीन जहां ने शमी पर दूसरी औरतों से संबंध रखने का आरोप लगाया था। सुबूत के तौर पर उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर शमी की दूसरी औरतों के साथ कई फोटो शेयर कीं। इसके अलावा हसीन ने शमी के दूसरी लड़कियों के साथ चैटिंग के स्क्रीन शॉट्स भी शेयर किए। हालांकि, बाद में उन्होंने उनको डिलीट कर दिया। हसीन ने शमी पर मारपीट का आरोप भी लगा दिया।

पत्नी के मोर्चा खोलते ही अगले दिन शमी ने दी सफाई
हसीन की ओर से लगाए गए आरोपों के अगले दिन सात मार्च को शमी ने अपने फेसबुक पेज के जरिये सफाई दी। शमी ने आरोपों को खारिज करते हुए उन्हें अपने और परिवार के खिलाफ साजिश बताया। शमी ने कहा-हाय, मैं शमी हूं। ये जितनी भी न्यूज हमारी पर्सनल लाइफ के बारे में चल रही हैं, ये सब सरासर झूठ हैं। ये मेरे खिलाफ बहुत बड़ी साजिश है। कोई मुझे बदनाम और मेरे खेल को खराब करना चाहता है।

हसीन ने फिर लिया मीडिया का सहारा
शमी की सफाई के बाद आठ मार्च को हसीन ने शमी पर फिर से आरोप लगाया। इस बार हसीन ने मीडिया का सहारा लिया और उन्हें एक नंबर का औरतबाज करार दे दिया। साथ ही हसीन ने ये भी कहा कि शमी ने जो भी अपने फेसबुक के जरिये सफाई दी है, वह एकदम गलत है। हसीन ने शमी पर ये आरोप भी लगा दिया कि वह उनकी हत्या कराना चाहते हैं। हसीन ने ये भी कहा कि वह मुझे पांच साल से प्रताडि़त कर रहे हैं। और दो साल से मुझसे तलाक लेने की कोशिश में हैं। साथ ही हसीन ने शमी पर पाकिस्तानी लड़की के साथ अफेयर का आरोप भी लगाया।

..और थाने पहुंच गया मामला
नौ मार्च 2019 को आखिरकार मामला थाने तक पहुंच गया और शमी के खिलाफ अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज करा दिया गया। शमी के खिलाफ कोलकाता के जादवपुर थाने में पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 498ए, 376, 307, 323, 506, 328 और 34 के तहत एफआइआर दर्ज कर ली थी। इसके बाद शमी को कोलकाता पुलिस ने पूछताछ के लिए भी तलब किया था। हालांकि, गिरफ्तारी नहीं हुई थी। अब पुलिस ने चार्जशीट पेश कर दी है।

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप