नई दिल्ली, जागरण न्यूज नेटवर्क। जब पूरी दुनिया में ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ आंदोलन चल रहा है तो श्वेतों के गढ़ रहे इंग्लैंड में जर्मेन ब्लैकवुड (95) की पारी से मिली वेस्टइंडीज की जीत बहुत बड़ा संदेश देती है। एक ऐसा संदेश जिसमें सभी को बराबरी का हक मिलेगा। सभी खुली हवाओं में एक आजादी की सांस ले पाएंगे। चार महीनों तक पूरी दुनिया क्रिकेट के एक अदद मुकाबले के लिए तरस सी रही थी।

मुकाबले की उम्मीद जगी और इस बीच पूरी दुनिया में ब्लैक लाइव्स मैटर आंदोलन की चिंगारी उठ सी गई। ऐसे में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच साउथैंप्टन के एजेस बाउल स्टेडियम में खेला गया मुकाबला पूरी दुनिया के लिए संदेश देने का एक जरिया बन गया। यह संदेश रविवार को कामयाब भी हो गया जब पहले टेस्ट में अश्वेतों की वेस्टइंडीज टीम ने क्रिकेट को जन्म देने वाले देश इंग्लैंड को चार विकेट से हार का स्वाद चखा दिया।

इस जीत से वेस्टइंडीज के दिग्गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग के संदेश को भी अब कई आवाजें मिलेंगी, जिसमें जर्मेन ब्लैकवुड की ऐतिहासिक पारी को पूरी दुनिया में याद किया जाएगा। हां, विरोधी टीम यानी इंग्लैंड को जीत की उम्मीदें किसी ने जगाई रखी तो वह एक कैरेबियाई तेज गेंदबाज, एक अश्वेत जोफ्रा आर्चर ही थे, जिन्होंने दूसरी पारी में तीन विकेट लिए, लेकिन बाकी गेंदबाजों से उनको कम साथ मिला।

200 रनों के आसान लक्ष्य को देखते हुए वेस्टइंडीज का जीतना मुमकिन लग रहा था, लेकिन आर्चर के हमलों से मेहमान टीम के बल्लेबाज बच नहीं सके। ब्रेथवेट (4) को आर्चर ने एलबीडब्ल्यू करके पवेलियन भेज दिया। फिर आर्चर ने अपनी तेज गेंद से दूसरे ओपनर जॉन कैंपबेल (1) को चोटिल कर दिया। आर्चर की एक तेज यॉर्कर गेंद कैंपबेल की एड़ी पर जाकर लगी। कैंपबेल से खड़ा भी नहीं हुआ जा रहा था और उन्हें रिटायर्ड हर्ट होकर वापस लौटना पड़ा।

इसके बाद खराब फॉर्म से जूझ रहे शाई होप (9) दोबारा से टीम बीच में छोड़कर निकल पड़े। होप को मार्क वुड ने बोल्ड किया। विंडीज की बिखरती पारी को इसके बाद रोस्टन चेज और जर्मेन ब्लैकवुड ने संभाला। 27 रन पर तीन विकेट गंवाने के बाद विंडीज की टीम मुश्किल में थी और उसे इन दोनों बल्लेबाजों ने संभाला। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 73 रन की साझेदारी की और इस जीत की जरूरत को पूरा करने की कोशिश कर दी।

हालांकि, चेज 37 रन के निजी स्कोर पर आर्चर का शिकार बने, लेकिन इसके बाद ब्लैकवुड ने अकेले दम पर विंडीज को यह ऐतिहासिक जीत नसीब कर दी। इससे पहले, इंग्लैंड के दो विकेट निकालने में विंडीज के तेज गेंदबाजों को ज्यादा मुश्किलों का सामना नहीं करना पड़ा। शनिवार के स्कोर आठ विकेट पर 284 रन से आगे खेलने उतरी इंग्लैंड की टीम 313 रन बनाकर पवेलियन लौट गई। अंतिम दोनों विकेट गैब्रिएल ने निकाले।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस