नई दिल्ली, पीटीआइ। भारतीय टीम के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने अंबाती रायुडू को न चुने जाने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। गंभीर ने कहा कि रिषभ पंत से ज्यादा रायुडू की चर्चा होनी चाहिए। गंभीर का मानना है कि सिर्फ तीन असफलताओं के बाद रायुडू को विश्व कप टीम से बाहर किया जाना दुखद है। पंत पर ज्यादा चर्चा नहीं होनी चाहिए, क्योंकि उन्होंने मिले मौके का फायदा नहीं उठाया।

पंत से ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण रायुडू को बाहर करना
टीम चयन को लेकर दिग्गज लगातार सवाल खड़े कर रहे हैं। पंत की जगह दिनेश कार्तिक को चुने जाने को सुनील गावस्कर ने हैरानी भरा फैसला बताया। वहीं, रायुडू को बाहर किए जाने को गंभीर ने सबसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। सोमवार को विश्व कप के लिए हुई भारतीय टीम की घोषणा के बाद गंभीर ने कहा, 'मुझे लगता है कि पंत को लेकर कोई बहस नहीं होनी चाहिए, लेकिन अंबाती रायुडू के बारे में अधिक बातें की जानी चाहिए। यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है कि सफेद गेंद के क्रिकेट में 48 के औसत वाले खिलाड़ी को जो केवल 33 वर्ष का है, उसे टीम में जगह नहीं दी गई। चयन में किसी अन्य फैसले से ज्यादा दुखद मेरे लिए यही है।'

खुद से की तुलना
गंभीर ने रायुडू को न चुने जाने की तुलना खुद से की। गंभीर ने कहा, ' 2007 विश्व कप मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ था। एक समय मैं क्रिकेट छोड़ने की सोच रहा था। मैं जानता हूं कि विश्व कप के लिए चुना जाना कितना मुश्किल होता है। आखिरकार हर किसी युवा खिलाड़ी के लिए यह बचपन का सपना होता है कि वह इस बड़े टूर्नामेंट का हिस्सा बने। मुझे किसा और खिलाड़ी की अपेक्षा रायुडू को लेकर ज्यादा दुख हो रहा है।'

रायुडू ने भी किया ट्वीट
भारतीय टीम में न चुने जाने के बाद अंबाती रायुडू ने भी ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया जताई है। रायुडू ट्वीट ने करके लिखा,' विश्व कप देखने के लिए मैंने नए थ्रीडी चश्मा ऑर्डर कर दिया है।' विश्व कप के लिए टीम की घोषणा होने के कुछ घंटों बाद रायुडू ने यह ट्वीट किया, इसके बाद से यह सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है।

Posted By: Rajat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप