नई दिल्ली,जेएनएन। World Cup 2019: इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड की मेजबानी में इसी साल आईसीसी क्रिकेट विश्व कप खेला जाना है। वर्ल्ड कप शुरू होने की तारीख जैसे-जैसे पास आ रही है वैसे ही क्रिकेट प्रेमियों में उत्साह भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। क्रिकेट की दुनिया में आइसीसी वर्ल्ड कप सबसे बड़ा टूर्नामेंट है, जहां क्रिकेट का हर खिलाड़ी अपनी छाप छोड़ने को बेकरार होता है। हर युवा क्रिकेटर एक दिन वर्ल्ड कप खेलने का सपना देखता है। हर खिलाड़ी को वर्ल्ड कप का इंतजार होता है ताकि इस टूर्नामेंट में अपना सर्वश्रेष्ठ देकर वह सभी फैन्स के दिलों में हमेशा के लिए छाप छोड़ सकें।  

इसी साथ ही यह वो शानदार टूर्नामेंट भी है जहां कई दिग्गज खिलाड़ी बेहतरीन करियर के बाज खेल को अलविदा भी कह देते हैं। इस साल भी कुछ ऐसे दिग्गज खिलाड़ी हैं जिनका इस साल वर्ल्ड कप करियर का आखिरी हो सकता है।

5. हाशिम आमला (दक्षिण अफ्रीका)

हाशिम आमला कई सालों से साउथ अफ्रीका को अच्छी शुरुआत देने का काम बखूबी करते आ रहे हैं। भले ही आमला को वनडे टीम में काफी देर से जगह मिली लेकिन इसके बावजूद उन्होंने कई रिकॉर्ड्स अपने नाम किए। आमला वनडे क्रिकेट में (50 की औसत से) सबसे तेज 2000, 3000, 4000, 5000, 6000 और 7000 रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। आमला कितने महान बल्लेबाज हैं यह इसे पता चलता है कि उन्होंने साउथ अफ्रीका के लिए सबसे ज्यादा वनडे शतक (26 शतक) लगाए हैं। 36 साल के इस खिलाड़ी के लिए यह वर्ल्ड कप आखिरी साबित हो सकता है इसलिए वह हर हाल में दक्षिण अफ्रीका के लिए पहला वर्ल्ड कप जरूर जीतना चाहेंगे।     

4. रोस टेलर (न्यूजीलैंड)

न्यूजीलैंड के स्टार खिलाड़ी रोस टेलर अपने करियर में तीन वर्ल्ड कप में शिरकत कर चुके हैं। 35 साल का ये खिलाड़ी न्यूजीलैंड के दिग्गज क्रिकेटर्स में से एक है। टेस्ट हो या वनडे टेलर इस वक्त बेहतरीन फॉर्म में हैं। उन्होंने साल की शुरुआत में श्रीलंका के खिलाफ शतक जड़ा था। हालांकि अच्छे फॉर्म के बावजूद यह वर्ल्ड कप रोस टेलर का आखिरी साबित हो सकता है।     

3. डेल स्टेन (दक्षिण अफ्रीका)

दक्षिण अफ्रीका के घातक गेंदबाज डेल स्टेन ने इसी साल चोट से उबरने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की। हालांकि 35 साल के इस तेज गेंदबाज के लिए भी यह वर्ल्ड कप आखिरी हो सकता है। स्टेन अफ्रीका के लिए 124 वनडे पारियां खेल चुके हैं, जिसमें उन्होंने 4.87 की इकोनॉमी के साथ 196 विकेट चटकाए हैं।

2. क्रिस गेल (वेस्टइंडीज)

कैरिबिया के इस धुंआधार बल्लेबाज ने कुछ समय पहले ऐलान किया था कि वर्ल्ड कप 2019 उनका आखिरी वर्ल्ड कप होगा। पिछले कुछ समय से उनकी फिटनेस और खेल में काफी अंतर देखा जा सकता है। उनकी बल्लेबाजी भी पहले की तरह घातक नहीं दिखती। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ वनडे और आइपीएल के कुछ मैचों में यूनिवर्स बॉस अच्छे फॉर्म में दिखे। लेकिन इसके बावजूद 39 साल के गेल के लिए अगला वर्ल्ड कप खेलना मुश्किल लगता है।      

1. एम एस धौनी (भारत)

इसमें कोई शक नहीं कि भारतीय क्रिकेट इतिहास में धौनी जैसा कोई विकेटकीपर-बल्लेबाज नहीं हुआ, लेकिन साल 2018 में उनका बल्ला पूरी तरह से रूठा रहा। यहां तक कि उनके वर्ल्ड कप 2019 खेलने पर भी संशय था। बल्लेबाजी औसत के लिहाज से साल 2018 धौनी के वनडे करियर का सबसे खराब साल रहा। इससे पहले उनकी सबसे कम औसत 2016 में रही थी, जब उन्होंने 13 मैचों में 27.80 की औसत से 278 रन बनाए थे। वरना हर साल उनकी औसत 40 से ज्यादा ही रही है। हालांकि, इस साल धौनी ने अकेले दम पर अपनी आइपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स को फाइनल तक पहुंचाया। लेकिन सवाल यह है कि 37 साल के धौनी कब तक ऐसा फॉर्म जारी रख पाएंगे। ऐसे में माही अगला वर्ल्ड कप खेलेंगे इसकी उम्मीद कम लगती है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप