नई दिल्ली, जेएनएन। Virat Kohli As Test Captain: विराट कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में कप्तानी के मामले में पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी को पीछे छोड़ दिया है। सबसे ज्यादा टेस्ट मैच पारी और रनों के अंतर से जीतने के मामले में विराट कोहली ने एमएस धौनी का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने दसवां टेस्ट मैच पारी और रनों के अंतर से जीता है।

इंदौर के होल्कर स्टेडियम में भारत ने बांग्लादेश को दो मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले में करारी शिकस्त दी। भारत ने मेहमान टीम बांग्लादेश को पारी और 130 रनों से हराकर सीरीज में 1-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली। बांग्लादेश की टीम तीन दिन में दो बार चारों खाने चित हो गई। पहली पारी में 150 रन पर ढेर होने के बाद दूसरी पारी में टीम 213 रन पर ऑल आउट हो गई। भारत ने पहली पारी में 493 रन बनाए थे।

कोहली बने 'विराट' टेस्ट कप्तान

विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने 10वीं बार किसी टेस्ट को पारी और रनों के अंतर से जीता है। ये भारतीय टीम के लिए बड़ा रिकॉर्ड है, क्योंकि इससे पहले एमएस धौनी ने टीम इंडिया को सबसे ज्यादा 9 बार पारी और रनों के अंतर से जीत दिलाई थी। विराट और धौनी के अलावा मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में भारत ने कुल 8 टेस्ट मैच पारी और रनों के अंतर से जीते थे, जबकि सौरव गांगुली की कप्तानी में भारत 7 टेस्ट मैच जीत पाया था।

ये है चार दिग्गज भारतीय कप्तानों का रिकॉर्ड

10 बार - विराट कोहली

9 बार - एमएस धौनी

8 बार - मोहम्मद अजहरुद्दीन

7 बार - सौरव गांगुली

इतना ही नहीं, कप्तान विराट कोहली ने लगातार तीन टेस्ट मैच पारी और रनों के अंतर से जीतकर अनूठा रिकॉर्ड भारतीय टीम के लिए बनाया है। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी कभी भी अपने करियर में भारत को पारी और रनों के अंतर से लगातार तीन टेस्ट मैच नहीं पाए थे। साथ ही साथ विराट कोहली ने धौनी के उस रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली है, जो उन्होंने साल 2013 में बनाया था। धौनी ने 2013 में (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 और वेस्टइंडीज के खिलाफ 2) लगातार 6 टेस्ट मैच जीते थे। विराट ने भी ये उपलब्धि वेस्टइंडीज, साउथ अफ्रीका और बांग्लादेश को हराकर हासिल कर ली है।

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप