नई दिल्ली, जेएनएन। विराट की गैरमौजूदगी में भारतीय टीम रोहित शर्मा की अगुआई में एशिया कप में एक बार फिर से अपना दमखम दिखाने को तैयार है। विराट के टीम में नहीं होने की वजह से कई सवाल खड़े हो रहे हैं लेकिन टीम में अब भी कई ऐसे दिग्गज मौजूद हैं जो टीम इंडिया को एक बार फिर से ये खिताब दिलाने की ताकत रखते हैं। एशिया कप के दौरान टीम इंडिया के कुछ दिग्गजों पर सभी क्रिकेट फैंस की निगाहें टिकी होंगी साथ ही इनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद भी रहेगी। 

महेंद्र सिंह धौनी-

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान व टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी पर सबका ध्यान लगा होगा। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में धौनी की स्लो बल्लेबाजी से टीम को सीरीज गंवानी पड़ी थी। इस बार सब यही चाहेंगे कि वो अपनी बल्लेबाजी से टीम का बेड़ा पार लगाएं। धौनी टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं और उनकी कप्तानी में भारत ने एशिया कप भी जीता है ऐसे में उनका रोल विराट की गैरमौजूदगी में और भी अहम हो जाता है। रोहित को धौनी से काफी मदद मिलेगी और इससे भारतीय टीम का फायदा होगा। 

रोहित शर्मा-

विराट कोहली को एशिया कप के लिए आराम दिया गया है और उनकी जगह टीम की कमान रोहित के हाथों में है। कप्तान के तौर पर रोहित का रिकॉर्ड  अब तक तो काफी अच्छा है। इससे पहले पिछले वर्ष श्रीलंका दौरे पर उन्हें वनडे और टी20 सीरीज के लिए टीम का कप्तान बनाया गया था और टीम ने दोनों ही सीरीज में जीत दर्ज की थी। इस सीरीज के दौरान रोहित की बल्लेबाजी भी बेहतरीन रही थी। रोहित अब अपनी कप्तानी में सफलता की इस कड़ी को आगे बढ़ाना चाहेंगे और उनकी कोशिश होगी की उनकी कप्तानी में भारत पहली बार एशिया कप जीते। 

मनीष पांडे-

मनीष पांडे बेहतरीन बल्लेबाज हैं लेकिन वर्ष 2015 में डेब्यू के बाद से वो भारतीय वनडे टीम में लगातार अपनी जगह बनाने में सफल नहीं रहे हैं। उन्होंने अब तक भारत के लिए 22 वनडे मैचों में 432 रन बनाए हैं और उनका औसत 39.2 का रहा है। उनके नाम पर एक शतक और दो अर्धशतक है। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि उन्हें नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए भेजा जा सकता है। मनीष से भी भारतीय टीम को उम्मीद है। 

कुलदीप यादव- 

इंग्लैंड दौरे पर कुलदीप यादव ने वनडे सीरीज़ में सबसे ज्यादा विकेट लिए थे। वनडे में इंग्लिश टीम के खिलाफ कुपदीप के नाम पर 9 विकेट थे। उन्होंने इंग्लैंड दौरे पर अपने करियर का बेस्ट प्रदर्शन करते हुए 25 रन देकर छह विकेट चटकाए थे। कुलदीप भारत के लिए लगातार वनडे मैच खेल रहे हैं और उन्होंने 23 वनडे में 48 विकेट लिए हैं। दुबई में पिच भारत जैसी ही होगी और यहां पर कुलदीप विरोधी टीम के लिए बड़ा खतरा बन सकते हैं। 

जसप्रीत बुमराह-

अपने अजीब से एक्शन के दम पर बुमराह ने जल्दी ही भारतीय क्रिकेट में अपना नाम बनाया है। अब वो भारत के लिए क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में खेल रहे हैं। वो फिलहाल वनडे रैंकिंग में दुनिया के नंबर एक तेज गेंदबाज हैं। एशिया कप में भारत के लिए वो बड़ी भूमिका निभाएंगे। 37 वनडे मैचों में 64 विकेट ले चुके बुमराह  का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 27 रन देकर पांच विकेट है। यूएई में जसप्रीत के लिए चुनौती होंगी लेकिन वो अपने अनोखे एक्शन व यार्कर से विरोधी टीम को परेशान कर सकते हैं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस