नई दिल्ली, रवीन्द्र प्रताप सिंह। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का अब तक का करियर बहुत ही शानदार रहा है। धौनी ने अपनी कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम को हर वो बड़ी उपलब्धि दिलवाई जो कि अन्य भारतीय कप्तान नहीं दिला सके थे। टीम इंडिया ने धौनी के नेतृत्व में साल 2011 दूसरी बार विश्वकप का खिताब जीता साल 2007 में धौनी की कप्तानी में ही टीम इंडिया ने पहला टी-20 विश्वकप जीता।

धौनी पिछले लगभग डेढ़ दशक से टीम इंडिया के लिए सीमित ओवरों में विकेट कीपिंग कर रहे हैं ऐसे में अगले साल होने वाले विश्वकप के लिए धौनी ही चयनकर्ताओं की पहली पसंद हैं। धौनी को लेकर संभावनाएं ऐसी भी जताई जा रही है कि वो विश्व कप 2019 के बाद संन्यास ले सकते हैं। ऐसे में उनकी जगह के लिए भारतीय टीम में दस्तक देने के लिए कई खिलाड़ी अपनी दावेदारी पेश करेंगे आइये आपको उन खिलाड़ियों से रूबरू करवाते हैं।

            

दिल्ली डेयरडेविल्स के 20 वर्षीय विकेट कीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने आइपीएल 2018 में अपनी बेहतरीन बल्लेबाज के दम पर जमकर सुर्खियां बटोरी। ऋषभ पंत ने इस सीजन में शानदार बल्लेबाजी करते हुए 14 मैचों में 684 रन बनाए जिसमें 5 अर्धशतक और एक शतक शामिल था। इस दौरान उनका औसत 52.60 रहा।

            

दूसरे नंबर पर अगर हम बात करें तो लोकेश राहुल भी इस जगह के बड़े दावेदार हैं लोकेश राहुल ने मौजूदा आइपीएल सत्र में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए बेहतरीन खेल दिखाया। किंग्स इलेवन पंजाब ने नीलामी के दौरान केएल राहुल पर 11 करोड़ रुपये का दांव लगाया था, जिसे लोकेश राहुल ने सही साबित किया। मौजूदा आइपीएल सत्र में राहुल ने शानदार बल्लेबाजी की और इस दौरान उन्होंने 14 मैचों में 659 रन बनाए इस दौरान उनका औसत 54.91 रहा।

           

तीसरा दावा मुंबई इंडियंस के विकेट कीपर बल्लेबाज ईशान किशन का रहेगा उन्होंने आइपीएल के इस सत्र में अपनी टीम के बेहतरीन प्रदर्शन किया है। ईशान को मुंबई इंडियंस ने 5.5 करोड़ रुपये में खरीदा था। अपनी इस कीमत को ईशान किशन ने मुंबई इंडियंस को कई मैच जिताऊ पारियों से चुकता किया है। ईडेन गार्डेंस में ईशान किशन ने कोलकाता के खिलाफ मात्र 17 गेंदों में ही अर्धशतक लगाया था। इस पारी में उन्होंने कुल 62 रन बनाए थे।

               

चौथे दावेदार के रूप में राजस्थान रॉयल्स के विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन अपना दावा पेश करेंगे। आइपीएल के मौजूदा सत्र में हमने उनकी बल्लेबाजी में गजब का निखार देखा है। इस सत्र में संजू सैमसन ने 15 मैचों में 441 रन बनाए, इस दौरान इनका बल्लेबाजी का औसत 31.5 रन प्रति पारी रहा है।

               

दिनेश कार्तिक यह एक ऐसा नाम है जो टीम इंडिया के लिए महेंद्र सिंह धौनी से भी पुराना है। धौनी के धाकड़ प्रदर्शन के चलते इस समय के बहुत से विकेट कीपरों को अपने करियर से हाथ धोना पड़ा जिसके एक शिकार दिनेश कार्तिक भी हैं। हालांकि अब कार्तिक में पहले से काफी ज्यादा बदलाव आया है और वो लगातार जिम्मेदारी वाली पारियां भी खेल रहे हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Ravindra Pratap Sing