नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। एशिया कप के इतिहास में ये दूसरा मौका है जब इसे टी20 फार्मेट में खेला जाएगा। इससे पहले साल 2016 में भी इसे टी20 फार्मेट में खेला गया था। इस साल भारतीय टीम एम एस धौनी की कप्तानी में इस टूर्नामेंट में उतरी थी और खिताब भी जीता था। भारत और पाकिस्तान की बात की जाए तो एशिया कप 2022 में वो दूसरी बार टी20 मैच खेलने एक-दूसरे के खिलाफ उतरेंगे। इससे पहले 2016 में दोनों टीमों के बीच एकमात्र टी20 मैच खेला गया था जिसमें पाकिस्तान की टीम को भारत ने बुरी तरह से हराया था। 

भारत ने पाकिस्तान को 83 रन पर कर दिया था आलआउट

2016 में जब एशिया कप में भारत और पाकिस्तान ने पहला टी20 मैच खेला था जब भारतीय टीम के कप्तान एम एस धौनी थे और पाकिस्तान टीम की कप्तानी शाहिद अफरीदी के हाथों में थी। इस मैच में भारत ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। पाकिस्तान की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 17.3 ओवर में सिर्फ 83 रन पर आल-आउट हो गई थी। भारत की तरफ से हार्दिक पांड्या सबसे सफल गेंदबाज रहे थे और उन्होंने सबसे ज्यादा 3 विकेट लिए थे जबकि रवींद्र जडेजा को दो तो वहीं आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह और युवराज सिंह को एक-एक सफलता मिली थी। 

पाकिस्तान की तरफ से इस मैच में सबसे बड़ा स्कोर करने वाले खिलाड़ी टीम के विकेटकीपर सरफराज अहमद थे तो वहीं कप्तान आफरीदी ने सिर्फ 2 रन की पारी खेली थी। इसके अलावा खुर्रम मंजूर ने 10 रन की पारी खेली थी। पाकिस्तान टीम के 9 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए थे। भारत को इस मैच में जीत के लिए 84 रन का टारगेट मिला था और भारत ने 15.3 ओवर में 5 विकेट पर 85 रन बनाते हुए मैच में जीत दर्ज की थी। इस मैच में भारत को दोनों ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे डक पर आउट हुए थे तो वहीं हार्दिक पांड्या भी जीरो पर चलते बने थे।

सुरेश रैना भी इस मैच में नहीं चले थे और एक रन पर आउट हो गए थे। वहीं विराट कोहली ने 51 गेंदों पर 7 चौकों की मदद से 49 रन की पारी खेली थी और टीम को जीत तक पहुंचाया था जबकि युवराज सिंह ने नाबाद 14 रन और धौनी ने नाबाद 7 रन की पारी खेलकर टीम को जीत दिला दी थी। विराट कोहली को प्लेयर आफ द मैच चुना गया था। आपको बता दें कि एशिया कप 2022 में भारतीय टीम रोहित शर्मा की कप्तानी में बाबर आजम की कप्तानी वाली पाकिस्तान की टीम के खिलाफ 28 अगस्त को मैच खेलेगी। 

Edited By: Sanjay Savern