नई दिल्ली, विकाश गौड़। Sachin Tendulkar International Debut: महान खिलाड़ी और क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने आज ही के दिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था। पाकिस्तान के खिलाफ कराची के मैदान पर सचिन तेंदुलकर पहली बार क्रिकेट से सबसे खतरनाक फॉर्मेट में उतरे थे। 16 साल और कुछ ही महीने की उम्र में सचिन तेंदुलकर ने अपना डेब्यू किया था। इसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट के इतिहास के पन्नों में स्वर्ण अक्षरों में दर्ज हो गया है।

छोटे कद के सचिन तेंदुलकर कब मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर पता ही नहीं चला। 15 नवंबर 1989 को सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच में डेब्यू किया था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तेंदुलकर के 30 साल पूरे हो गए हैं। हालांकि, 6 साल पहले ही उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था, लेकिन 24 साल के लंबे क्रिकेट करियर में उन्‍होंने तमाम ऐसे रिकॉर्ड बनाए हैं जो अगले कुछ दशकों तक अटूट रहने वाले हैं। इसके अलावा उन्होंने तमाम यादगार पल भी भारतीय क्रिकेट को दिए हैं।

सचिन बने कसौटी

आज भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कोई बल्लेबाज (फिर चाहे वो भारतीय हो या विदेशी) को अगर 22 गज की पट्टी पर महान बनना है तो उसे तेंदुलकर की कसौटी पर खरा उतरना होगा। दरअसल, उनके रिकॉर्ड इस बात के गवाह हैं जो अच्छे-अच्छे खिलाड़ियों के बूते की बात नहीं। हालांकि, सचिन को भी महान ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन से तोला जाता था, जिन्होंने अपने टीम के लिए तमाम ऐतिहासिक रिकॉर्ड बनाए हैं जिसके आस-पास भी कोई बल्लेबाज नहीं है।

आपको बता दें, तेंदुलकर ने अपनी पहली ही अंतरराष्ट्रीय पारी में वकार यूनुस, वसीम अकरम, इमरान खान और अब्‍दुल कादिर जैसे घातक पाकिस्तानी गेंदबाज का सामना किया था। यहां तक कि पहले ही मैच में सचिन तेंदुलकर के मुंह‍ पर वकार यूनुस की गेंद लगी थी, जिस दर्द को उन्होंने हंसते-हंसते सह लिया। यहां तक कि इस पारी के दौरान उनके खून भी निकल आया था। हालांकि, अपनी पहली टेस्‍ट पारी में लोअर मिडिल ऑर्डर पर बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने 24 गेंदों में सिर्फ 15 रन बनाए थे।

सचिन तेंदुलकर का टेस्ट करियर

सचिन तेंदुलकर ने भारतीय टीम के लिए 200 टेस्‍ट मैच खेले हैं, जो अपने आप में एक विश्व रिकॉर्ड है। उनसे पहले किसी भी बल्लेबाज ने ये माइल स्टोन पार नहीं किया है। हैरान करने वाली बात ये है कि सचिन तेंदुलकर ने आज ही के दिन साल 2013 में 15 नवंबर को अपनी आखिरी टेस्ट पारी खेली थी। सचिन ने 200 टेस्ट मैचों में 53.78 की औसत से 15921 रन बनाए हैं, जिसमें 51 शतक और 68 अर्धशतक शामिल हैं।

केवल टेस्ट क्रिकेट की ही बात करें तो सचिन तेंदुलकर के मैच, रन, शतक और अर्धशतकों के आसपास भी कोई बल्लेबाज नहीं है। ऐसे में कहा जा सकता है कि सचिन तेंदुलकर के ये आंकड़े अगले कुछ दशक तक महफूज हैं। इन आंकड़ों पर कोई आंच नहीं आने वाली। हालांकि, क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल हैं, लेकिन सचिन इस खेल के भगवान हैं।  

ये हैं सचिन तेंदुलकर के वर्ल्ड रिकॉर्ड

34357- अंतरराष्ट्रीय रन

100- इंटरनेशनल शतक

164- अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक

76- मैन ऑफ द मैच

20- मैन ऑफ द सीरीज

463- वनडे मैच

200- टेस्ट मैच

74 बार नॉट आउट

हजारों रिकॉर्ड और लाखों यादगार पल जिसमें सचिन...सचिन... की गूंज भी शामिल है

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप