नई दिल्ली, जेएनएन। India vs South Africa: भारतीय क्रिकेट टीम को साउथ अफ्रीका के विरुद्ध तीन मैचों की टी 20 सीरीज खेलनी है जिसकी शुरुआत 15 सितंबर से धर्मशाला में होगी। अब से लेकर अगले टी 20 विश्व कप तक टीम इंडिया को कुल 22 टी20 मैच खेलने हैं और इन मैचों में सेलेक्टर्स सभी युवा खिलाड़ियों को आजमा लेंगे और उसके बाद ही विश्व कप के लिए टीम की घोषणा की जाएगी। यानी ये सीरीज अगले टी20 विश्व कप की तैयारी के लिहाज से अहम होगी। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम में कई युवा खिलाड़ी शामिल हैं जिन पर निगाहें तो रहेंगी ही साथ में सबसे ज्यादा नजर जिस खिलाड़ी पर होगी वो हैं रिषभ पंत (Rishabh Pant)। पंत को धौनी (Dhoni) का विकल्प तो माना जा रहा है, लेकिन वो बल्लेबाजी में लगातार निराश कर रहे हैं। 

वर्ल्ड कप 2019 में भी रिषभ को टीम इंडिया में शामिल किया गया और चौथे नंबर पर उतारा गया पर वहां उन्होंने निराश कर दिया। उसके बाद हालिया वेस्टइंडीज दौरे पर वो बुरी तरह से फ्लॉप रहे। नंबर चार पर रिषभ खुद को स्थापित नहीं कर पा रहे हैं ऐसे में आगे की तैयारियों को लिहाज से टीम मैनेजमेंट वो कप्तान विराट को अन्य विकल्प के बारे में जरूर सोचना चाहिए। नंबर 4 पर पंत ने अबतक 7 वनडे पारियां खेली हैं जिसमें उनका औसत महज 21.71 है। टी20 क्रिकेट की बात करें तो नंबर 4 पर पंत ने 20.50 के औसत से सिर्फ 164 रन बनाए हैं। यानी आंकड़े तो यही बताते हैं कि पंत को ज्यादा समय देने का फैसला अब शायद ही सही हो। 

रिषभ पंत अक्सर अपने गलत शॉट की वजह से अपना विकेट गंवा देते हैं और वो अपनी इस कमजोरी पर शायद काम भी नहीं कर रहे हैं। उनके प्रदर्शन पर गौर करें तो वो नंबर चार के लिए थोड़े अनफिट लग रहे हैं। ऐसे में रिषभ पंत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ नंबर चार के बजाए नीचे मौका दिया जा सकता है। अब अगर पंत नंबर चार पर नहीं खेलेंगे तो इस वक्त उनकी जगह कौन इस नंबर पर आ सकता है। इसके लिए फिलहाल दो खिलाड़ियों का नाम सामने आता है। एक हैं मनीष पांडे और दूसरे हैं श्रेयस अय्यर। 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए दो सबसे बड़े दावेदार नजर आते हैं और वो हैं मनीष पांडे (Manish Pandey) व श्रेयस अय्यर (Shreyash Iyer)। हालांकि मनीष पांडे ने वेस्टइंडीज के खिलाफ साधारण प्रदर्शन किया था, लेकिन श्रेयस अय्यर की बल्लेबाजी लाजवाब रही थी। इंडीज के खिलाफ दो वनडे मैचों में उन्होंने 124.77 की स्ट्राइक रेट से रन बनाते हुए दोनों ही मैचों में अर्धशतक लगाए थे। हालांकि श्रेयस अय्यर ने कभी नंबर चार पर बल्लेबाजी नहीं की है, लेकिन तीसरे नंबर पर उनका औसत 54 का रहा है जबकि पांचवे नंबर पर उन्होंने 46 के औसत से रन बनाए हैं। ऐसे में टीम इंडिया को नंबर चार पर श्रेयस अय्यर को मौका देना चाहिए। हो सकता है वो इस नंबर पर खुद को साबित कर दें और भारत की समस्या खत्म हो जाए। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस