नई दिल्ली, जेएनएन। आइपीएल के 14वें सीजन को कोविड-19 महामारी की वजह से अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है, लेकिन इस सीजन में अब तक खेले गए 29 मुकाबलों में सबसे बेहतरीन कप्तान के तौर पर रिषभ पंत सामने आए। रिषभ पंत को आइपीएल 2021 के लिए दिल्ली कैपिटल्स का कप्तान बनाया गया क्योंकि टीम के नियमित कप्तान श्रेयस अय्यर चोटिल होकर पूरे सीजन से बाहर हो गए थे। दिल्ली की टीम मैनेजमेंट ने जिस तरह का भरोसा रिषभ पंत पर दिखाया उसे उन्होंने साबित भी किया। 

रोहित व धौनी पर भारी पड़े रिषभ पंत

रिषभ पंत की कप्तानी में दिल्ली की टीम ने अब तक कुल 8 मुकाबले खेले थे। इनमें से इस टीम को 2 मैच में हार मिली तो वहीं 6 मैच दिल्ली की टीम ने जीते। 6 मैच जीतकर इस टीम के कुल 12 अंक हैं और ये टीम अंक तालिका में पहले स्थान पर काबिज हो गई। एक नए कप्तान की अगुआई में दिल्ली टीम की ये सफलता तारीफ के काबिल है। इसमें कोई शक नहीं कि, दिल्ली एक मजबूत और युवा टीम है, लेकिन टीम की सफलता में कप्तान की रणनीति और खिलाड़ियों को प्रेरित करने की कला भी काफी मायने रखती है और रिषभ इन दोनों मोर्चे पर सफल नजर आए। 

रिषभ पंत की कप्तानी में इस सीजन में दिल्ली की टीम को पहला मैच धुरंधर कप्तान एम एस धौनी की अगुआई वाली टीम सीएसके के खिलाफ खेलना था, लेकिन दिल्ली ने सीएसके को पहले ही लीग मैच में 7 विकेट से हरा दिया। इसके बाद दिल्ली ने अपने चौथे लीग मुकाबले में आइपीएल की सबसे सफल टीम मुंबई इंडियंस को 6 विकेट से हराया। रिषभ की अगुआई में लीग के पहले हाफ में धौनी और रोहित के खिलाफ मिली ये जीत अपने आप में बेमिसाल रही। वैसे विराट कोहली की कप्तानी वाली आरसीबी के खिलाफ दिल्ली को सिर्फ एक रन से हार मिली, लेकिन ये टक्कर जोरदार रही। रिषभ पंत ने जिस तरह से इन तीनों धुरंधर के खिलाफ कप्तानी की उसकी जितनी भी तारीफ की जाए वो कम है। पंत की कप्तानी में दिल्ली ने पंजाब, हैदराबाद, कोलकाता इन टीमों को भी हराया। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप