मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

 नई दिल्ली, जेएनएन। ICC cricket world cup 2019: वर्ल्ड कप 2019 अब अपने आखिरी पड़ाव पर है। इंग्लैंड व न्यूजीलैंड फाइनल में पहुंच चुके हैं और दुनिया को अब एक नया विश्व विजेता मिलने वाला है। पर दूसरी तरफ इस विश्व कप में जिन टीमों का प्रदर्शन खराब रहा है उन टीमों पर उसका असर दिखता नजर आने लगा है। इस विश्व कप में अफगानिस्तान का प्रदर्शन बेहद खराब रहा और इस टीम ने एक भी लीग मैच नहीं जीता। नौ मैचों में शून्य अंक के साथ ये टीम दसवें स्थान पर रही और लीग स्टेज में ही इसका सफर खत्म हो गया। 

अफगानिस्तान की टीम इस बार वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में गुलबदीन नैब की कप्तानी में इंग्लैंड पहुंची थी। दूसरी बार विश्व कप टूर्नामेंट खेलने वाली ये टीम अपने नए कप्तान की अगुआई में कुछ नया करना चाहती थी पर ऐसा नहीं हो पाया। अब टीम की खराब प्रदर्शन की वजह से गुलबदीन नैब से कप्तानी छीन ली गई है। उनकी जगह राशिद खान को टीम का नया कप्तान नियुक्त किया गया है जबकि असगर अफगान को उप-कप्तान बनाया गया है। 

BREAKING: Rashid Khan has been appointed Afghanistan captain across formats! Asghar Afghan is vice-captain. pic.twitter.com/yKCfChR6a4

वर्ल्ड कप 2019 से पहले गुबदीन नैब को टीम की कप्तानी इस उम्मीद में सौंपी गई थी कि टीम का प्रदर्शन अच्छा हो पर ऐसा नहीं हो पाया। नैब इस टूर्नामेंट में कप्तानी का बोझ नहीं झेल पाए और उनकी कप्तानी में टीम को एक भी मैच में जीत नसीब नहीं हुई थी। वर्ल्ड कप से पहले टीम के कप्तान असगर अफगान थे और उन्हें कुछ मैचों के लिए अंतिम ग्यारह में भी जगह नहीं मिली थी।

असगर अफगान भी इस टूर्नामेंट में कुछ खास नहीं कर पाए थे और उन्होंने छह मैचों में 26 की औसत से कुल 154 रन बनाए थे। वहीं गुलबदीन नैब ने भी अपने प्रदर्शन से निराश ही किया था। नैब ने 21.55 की औसत से महज 194 रन बनाए और वो एक अर्धशतक भी नहीं लगा सके थेष वहीं गेंदबाजी में उन्होंने 9 विकेट लिए लेकिन उनका इकॉनमी रेट 6.39 रहा था। विश्व कप टूर्नामेंट में ये टीम काफी विवादों में रही और टीम के कुछ खिलाड़ियों को टूर्नामेंट के बीच में ही स्वदेश लौटना पड़ा था। टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज मो. शहजाद को फिट होने के बावजूद टीम से बाहर कर दिया गया था।

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप