नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम को इंग्लैंड के खिलाफ शुक्रवार से एक मात्र टेस्ट मैच में बर्मिंघम में खेलने उतरना है। मैच से ठीक पहले नियमित कप्तान रोहित शर्मा कोरोना संक्रमित पाए गए और अब उनकी जगह तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह टीम की कमान संभालेंगे। भारत की तरफ से टेस्ट मैच में कप्तानी करने वाले बुमराह 36वें खिलाड़ी होंगे।

भारतीय टीम जब 1 जुलाई को इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम टेस्ट में खेलने उतरेगी तो कमान बुमराह के हाथों में होगी। भारत की तरफ से सबसे पहली बार टेस्ट में करने का गौरव सीके नायडु को हासिल हुआ था। तब से अब तक कुल 15 टेस्ट कप्तान बन चुके हैं जिनके नेतृत्व में टीम खेली है। भारत के लिए सबसे सफल कप्तानों की लिस्ट में जीत के मामले में विराट कोहली पहले नंबर पर हैं।

भारत को पहली जीत

1932 पहला टेस्ट मैच खेलने वाली टीम इंडिया को पहली जीत साल 1952 में मिली थी। कप्तान विजय हजारे के नेतृत्व ने इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के 5वें और आखिरी मुकाबले में टीम ने पारी और 8 रन से जीत दर्ज की थी। इंग्लैंड ने चेन्नई टेस्ट की पहली पारी में 266 रन बनाए जिसके जवाब में भारत ने 9 विकेट पर पहली पारी 457 रन पर घोषित की। दूसरी पारी में पूरी इंग्लिश टीम 183 रन पर ही ढेर हो गई। वीनू मांकड़ ने पहली पारी में 8 और दूसरी में 4 विकेट चटकाए थे।

भारत के सफल कप्तान

विराट के नाम बतौर कप्तान टेस्ट में सबसे ज्यादा जीत हासिल करने का रिकार्ड है। 68 टेस्ट में कप्तानी करते हुए उनको 40 में जीत मिली जबकि 17 मैच में टीम हारी वहीं 11 मुकाबले ऐसे रहे जो ड्रा हुए। इसके बाद महेंद्र सिंह धौनी का नाम है जिनकी कप्तानी में भारत ने 60 मैच खेलकर 27 टेस्ट जीते, 18 मुकाबलों में टीम को हार मिली और 15 ड्रा रहे। सौरव गांगुली ने 49 टेस्ट में से टीम को 21 में जीत मिली और 13 मैच गंवाया 15 मैच ड्रा रहे।

Edited By: Viplove Kumar