क्राइस्टचर्च, प्रेट्र। न्यूजीलैंड का दौरा भारतीय टीम के लिए बेहद ही मुश्किल माना जा रहा था लेकिन टीम इंडिया इतना बुरा प्रदर्शन करेगी यह किसी ने नहीं सोचा था। इस दौरे पर खेली गई तीन में से दो सीरीज में भारत को शर्मनाक हार मिली। वनडे और टेस्ट दोनों सीरीज में कप्तान विराट कोहली रन बनाने में नाकाम रहे।

भारतीय टीम को पांच मैचों की टी20 सीरीज में जीत मिली और उसके बाद वनडे और टेस्ट में करारी हार का सामना करना पड़ा। दोनों ही सीरीज में न्यूजीलैंड ने भारत का क्लीन स्वीप किया। वनडे में 3-0 और टेस्ट में मेजबान टीम ने भारत को 2-0 से हराया।

कोहली के लिए न्यूजीलैंड दौरा बुरा सपना

भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए न्यूजीलैंड दौरा बुरा सपना रहा। चार टी--20, तीन वनडे और दो टेस्ट की कुल 11 पारियों में कोहली के बल्ले से सिर्फ 218 रन ही निकल पाए। वहीं टेस्ट सीरीज में उनका औसत 9.50 का रहा है, जिसमें उन्होंने 2, 19, 3, 14 का स्कोर किया। यह किसी भी सीरीज में उनका दूसरा सबसे खराब औसत है।

कोहली का सबसे खराब औसत 2016--17 बॉर्डर--गावस्कर सीरीज में है, जहां उन्होंने पांच पारियों में 9.20 के खराब औसत से मात्र 46 रन बनाए थे। वहीं 10वीं बार घर से बाहर किसी सीरीज में भारतीय कप्तान का औसत 10 से कम का रहा है। इन 10 सीरीज में भारत को नौ में हार मिली जबकि एक सीरीज ड्रॉ रही।

भारतीय टीम का शर्मनाक प्रदर्शन

2002-03 के बाद दो या उससे ज्यादा मैचों की टेस्ट सीरीज में किसी भी भारतीय बल्लेबाज ने शतक नहीं लगाया है। तब से लेकर अब तक भारत ने 60 सीरीज खेली हैं

2011-12 के बाद भारतीय टीम ने दो या उससे ज्यादा टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप झेला है। यह पहली बार है जब भारतीय कप्तान विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने क्लीन स्वीप झेला है

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस