नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत (Rishabh Pant) पर लगातार अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव बढ़ता जा रहा है। टी20 और वनडे में औसत प्रदर्शन करने के बाद अब टेस्ट टीम में भी उनकी जगह खतरे में नजर आ रही है। पंत बल्ले से बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं तो टीम से बाहर चल रहे बल्लेबाज लगातार अच्छी पारी खेल रहे हैं।

साउथ अफ्रीका ए के खिलाफ खेले जा रहा चार दिवसीय टेस्ट मैच में अनुभवी विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) ने शानदार अर्धशतकीय पारी खेलकर अपनी दावेदारी पेश कर दी है। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए टीम में रिषभ पंत के साथ साहा का नाम भी शामिल है।

पंत को चयनकर्ताओं ने साहा से अनुभवी होने के बाद भी टीम में मौका दिया था। अब उनपर बेहतर प्रदर्शन की तलवार लटक रही है। पंत वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई सीरीज में नाकाम रहे थे। दूसरी तरफ साहा मिल रहे मौकों पर शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं।

साउथ अफ्रीका ए के खिलाफ जुझारू अर्धशतक

साहा ने साउथ अफ्रीका ए के खिलाफ शानदार 60 रन की पारी खेली। इस पारी के दौरान उन्होंने 8 चौके लगाए। इस पारी के दौरान उन्होंने 126 गेंद का सामना किया जो बेहद अहम है। उन्होंने इस सधी पारी खेलकर टीम मैनेजमेंट को साउथ अफ्रीका के खिलाफ होने वाली टेस्ट से पहले अपनी मजबूत दावेदारी पेश की है। पहले दिन साहा ने 36 रन की पारी खेली थी जिसे दूसरे दिन उन्होंने 60 रन तक पहुंचाया।

पंत पर लगातार बढ़ता दबाव

पिछली 10 टेस्ट पारियों पर अगर नजर डालें तो पंत ने सिर्फ एक बार 50 से उपर का स्कोर बनाया है। सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 159 रन की नाबाद पारियों को छोड़ दें तो उनकी सबसे बड़ी पारी 39 रन की रही थी। वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट की तीन पारियों में 24, 7, 27 रन बनाए थे।

 

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप