नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच नेपियर में खेले गए पहले वनडे मैच को टीम इंडिया ने 8 विकेट से जीत लिया है। इस जीत से भारत ने पांच वनडे मैचों की सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ 1-0 से बढ़त बना ली है। टीम इंडिया के लिए ये जीत बेहद खास रही, क्योंकि नेपियर में मिली इस जीत ने भारतीय टीम का 9 साल का सूखा खत्म कर दिया।

ये जानकर रह जाएंगे हैरान

टीम इंडिया के लिए ये जीत इसलिए खास रही, क्योंकि न्यूज़ीलैंड की धरती पर भारत को 9 साल के बाद किसी भी फॉर्मेट में ये पहली जीत मिली है। इससे पहले भारत को न्यूज़ीलैंड में जो आखिरी जीत मिली थी वो 2009 में खेली गई टेस्ट सीरीज़ के पहले मैच में मिली थी। हैमिल्टन में खेले गए उस मैच को भारत ने 10 विकेट से जीता था। 2009 के बाद भारतीय टीम ने 2014 में भी न्यूज़ीलैंड का दौरा किया था। उस दौरे पर भारतीय टीम एक भी वनडे मैच नहीं जीत सकी थी। पांच मैच की वनडे सीरीज़ को कीवी टीम ने 4-1 से अपने नाम किया था। वहीं दो टेस्ट मैच की सीरीज़ भी न्यूज़ीलैंड ने 1-0 से अपने नाम की थी। यानि उस दौरेे पर भारत को एक अदद जीत तक के लिए तरसना पड़ा था।

 

ऐसा रहा मैच का हाल

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सभी विकेट गंवाकर 157 रनों का स्कोर खड़ा किया। इस पारी में टीम के लिए कप्तान केन विलियमसन ने सबसे अधिक 64 रन बनाए। इसके अलावा, मेजबान टीम के लिए कोई भी अन्य बल्लेबाज खास कमाल नहीं कर पाया। भारत के लिए कुलदीप यादव ने सबसे अधिक चार विकेट लिए। इसके अलावा, मोहम्मद शमी को तीन और युजवेंद्र चहल को दो विकेट मिले। केदार जाधव को एक सफलता हाथ लगी। इसके बाद भारत ने 158 रनों के लक्ष्य को 34.5 ओवर में ही दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। भारत की ओर से धवन ने सर्वाधिक 75* रन बनाए। अंबाती रायुडू भी 13 रन बनाकर नाबाद रहे। कोहली ने भी 45 रन की पारी खेली।  

शमी ने हासिल की ये उपलब्धि

इस मैच में शमी ने अंतर्राष्ट्रीय वनडे में सबसे तेजी से 100 विकेट पूरे करने वाले पहले भारतीय होने की उपलब्धि हासिल की। उन्होंने पूर्व खिलाड़ी इरफान पठान को पीछे छोड़ दिया है। शमी ने 56वें वनडे मैच में विकटों का शतक पूरा करने का गौरव हासिल किया, वहीं पठान को यह मुकाम 59वें वनडे मैच में हासिल हुआ।अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शमी ने न्यूजीलैंड के गेंदबाज ट्रैंट बोल्ट के रिकॉर्ड की बराबरी की है। उन्होंने भी 56 मैचों में 100 विकेट अपने नाम किए।

धवन ने भी हासिल किया ये मुकाम

इस मैच में धवन ने 103 गेंदों का सामना किया। उन्होंने छह चौके लगाए। इसके साथ ही उन्होंने सबसे तेजी से 5,000 वनडे रन पूरे करने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज होने का गौरव भी हासिल किया। इस सूची में कोहली पहले स्थान पर हैं। कोहली ने 114 पारियों में 5,000 वनडे रन पूरे करने की उपलब्धि अपने नाम की थी, वहीं धवन ने 118 पारियों में यह मुकाम हासिल किया है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इस उपलब्धि को हासिल करने वाले बल्लेबाजों में कोहली तीसरे और धवन पांचवें स्थान पर हैं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप