क्राइस्टचर्च, पीटीआइ। India vs New Zealand Test Series: दो मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले में भारतीय टीम के बल्लेबाज संघर्ष करते नज़र आए। न्यूजीलैंड की ओर से ट्रेंट बोल्ट, टिम साउथी और काइल जैमीसन ने भारतीय बल्लेबाजों को काफी परेशान किया। इन तीन तेज गेंदबाजों के बाद न्यूजीलैंड के खेमे में दूसरे टेस्ट मैच के लिए एक और तेज गेंदबाज शामिल होगा, जो भारतीय बल्लेबाजों के लिए और भी मुश्किल पैदा करेगा। हम बात कर रहें हैं नील वैगनर की जो धारदार गेंदबाजी के लिए जाने जाते हैं।

खुद मैच से दो दिन पहले नील वैगनर ने कहा है कि तेज और उछाल वाली गेंदों पर भारतीय बल्लेबाजों के संघर्ष को देखते हुए वे उनके खिलाफ उसी तरह की गेंदबाजी करेंगे। नील वैगनर अपने पहले बच्चे के जन्म के कारण वेलिंगटन टेस्ट मैच में नहीं खेल पाए थे जिसमें भारतीय बल्लेबाजों को राउंड द विकेट से की गई शॉर्ट पिच गेंदों के सामने जूझना पड़ा था। वैगनर ने कहा कि उनकी टीम शनिवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच में भी यही रणनीति अपनाएगी। वैगनर ने कहा, "निश्चित तौर पर उनके लिए यहां खेलना मुश्किल होगा जहां थोड़ी अधिक उछाल और तेजी है। भारत में खेलने से यह अलग है जहां बहुत अधिक उछाल और तेजी नहीं होती है।"

भारतीय खिलाड़ी करना चाहेंगे बेहतर प्रदर्शन

कीवी कोच गैरी स्टीड की तरह वैगनर का भी मानना है कि भारतीय खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करेंगे, लेकिन उन्हें उम्मीद है कि न्यूजीलैंड की टीम अपनी तरफ से किसी तरह की ढिलाई नहीं बरतेगी और मेहमान टीम की परेशानियां बढ़ाने में सफल रहेगी। उन्होंने कहा, "उम्मीद है कि हम उन पर शिकंजा कसने में सफल रहेंगे और उसी तरह से गेंदबाजी करेंगे जैसे हमने वेलिंगटन में की थी। अगर हम दबाव बनाए रख पाते हैं तो इससे हम खुद के लिए काम आसान करेंगे।"

सीरीज छोटी है और इसलिए भारतीयों को परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिला। इस पर वैगनर ने कहा, "कई बार जब आप विदेशी दौरों पर होते हैं तो परिस्थितियों से तालमेल बिठाने में एक या दो मैच लग जाते हैं। इसमें कोई संदेह नहीं कि वे बेहतर प्रदर्शन करेंगे और दमदार वापसी करेंगे।"

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस