नई दिल्ली, जेएनएन। इंग्लैंड और वेल्स में 30 मई से शुरू हो रहे आइसीसी के सबसे बड़े टूर्नामेंट यानी वर्ल्ड कप के लिए बीसीसीआइ ने टीम इंडिया का एलान कर दिया है। सोमवार को मुंबई में बीसीसीआइ की चयन समिति ने 15 सदस्यीय टीम का चुनाव किया है, जो वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा होंगे। वर्ल्ड कप की इस टीम में तीन ऐसे खिलाड़ी हैं, जो एक भी मैच में फेल हुए तो टीम की नैया डूब सकती है। यहां तक कि ये तीनों भारतीय क्रिकेटर इस समय एक ही टीम से आइपीएल खेल रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे ऊपर हैं रोहित शर्मा...

रोहित शर्मा

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम वर्ल्ड कप खेलेगी। रोहित शर्मा इस टीम के उपकप्तान हैं और हिटमैन रोहित ऐसे बल्लेबाज हैं, जो अकेले दम पर मैच जिता सकते हैं। वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगा चुके रोहित शर्मा इस फॉर्मेट के सबसे तगड़े ओपनर हैं। रोहित शर्मा जब फॉर्म में होते हैं तो फिर कोई भी गेंदबाज उनके सामने पानी मांगता नजर आता है। रोहित शर्माअगर ये जल्दी आउट हो जाते हैं टीम संभाले नहीं संभलती।

ऐसे में भारतीय टीम को वर्ल्ड कप जीतना है तो रोहित शर्मा को हर मैच में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। हिटमैन रोहित शर्मा के वनडे करियर पर नज़र डालें तो रोहित ने अब तक भारत के लिए 206 वनडे मैच खेल चुके हैं। इन मैचों में रोहित के बल्ले से 8010 रन निकले हैं। इस दौरान उन्होंने 22 शतक और 41 अर्धशतक जड़े हैं। रोहित शर्मा का वनडे का औसत 47.4 का है। रोहित शर्मा के अलावा मुंबई इंडियंस के हार्दिक पांड्या भी वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के लिए एक्स फैक्टर हैं। 

हार्दिक पांड्या

मुंबई इंडियंस के आइपीएल खेल रहे हार्दिक पांड्या भी वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा हैं। बैटिंग ऑलराउंडर की भूमिका में उनका चयन विश्व कप के लिए हुआ है। हार्दिक पांड्या भारतीय टीम के ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनका चलना विराट एंड कंपनी के लिए जरूरी है। हार्दिक पांड्या के साथ खास बात ये है कि ये ताबड़तोड रन तो बनाते ही हैं। साथ ही साथ लंबे-लंबे छक्के जड़ने में भी सक्षम हैं। 

हार्दिक का टीम इंडिया में चुने जाने का एक मतलब ये भी है कि ये दस ओवर गेंदबाजी करा सकते हैं। लेकिन, अगर इनसे इंग्लैंड में तेजी से रन नहीं बनते हैं और विकेट नहीं निकलती हैं तो भारतीय टीम के लिए ये काफी नुकसानदायक होगा। टीम इंडिया को पांड्या से उम्मीद ये है कि अगर उनको निचले क्रम पर कुछ गेंदें खेलने को मिलती हैं तो वो उनमें से ज्यादा से ज्यादा गेंदों को चौके और छक्के में बदलें। इसके अलावा उनके ऊपर मैच फिनिश करने की जिम्मेदारी होगी। रोहित और पांड्या के अलावा जसप्रीत बुमराह भी एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो किसी भी टीम पर भारी पड़ सकते हैं। 

जसप्रीत बुमराह

आइसीसी वनडे रैंकिंग में टॉप पर चल रहे जसप्रीत बुमराह डेथ बॉलर स्पेशलिस्ट हैं। इनसे अच्छा डेथ ओवर गेंदबाज दुनिया में कोई नहीं हैं। ऐसे में जसप्रीत बुमराह के कंधों पर करीबी हार-जीत वाले मैचों को जिताने की जिम्मेदारी होगी। इसके अलावा अगर जसप्रीत बुमराह की परफॉर्मेंस वर्ल्ड कप में थोड़ी भी इधर-उधर होती है तो फिर भारतीय टीम की हार कोई टाल नहीं सकता। 

जसप्रीत बुमराह अगर अपने कोटे के दस ओवरों में कोई बड़ा विकेट नहीं ले पाते या फिर किसी साझेदारी को तोड़ नहीं पाए तो ये टीम इंडिया को भारी पड़ सकता है। जसप्रीत बुमराह के अगर वनडे करियर की बात करें तो उन्होंने अब तक 49 मैच खेले हैं। इन मैचों में 85 विकेट चटकाए हैं। बुमराह की वनडे इकॉनमी 4.51 की है, जो कि एक तेज गेंदबाज के लिए काफी मायने रखती है।

ऐसे में कप्तान विराट कोहली चाहेंगे कि रोहित शर्मा टॉप ऑर्डर संभालें, हार्दिक पांड्या मिडिल ऑर्डर के साथ-साथ एक-दो ब्रेकथ्रू दिलाएं। वहीं, जसप्रीत बुमराह अपनी गेंदबाजी से सामने वाली टीम के खिलाड़ियों के होश उड़ाएं। विराट ही नहीं, बल्कि भारतीय क्रिकेट फैंस को भी इन मैच विनर्स से काफी उम्मीद है। 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur