नई दिल्ली, जेएनएन। आइसीसी वर्ल्ड कप शुरू होने में कुछ ही समय रह गया है। इंग्लैंड और वेल्स में 30 मई से शुरू होने वाले वर्ल्ड कप आइसीसी का सबसे बड़ा और सबसे पसंद किया जाने वाला टूर्नामेंट है। वर्ल्ड कप के इस 12वें सीजन में कुल 10 टीमें हिस्सा लेंगी। टूर्नामेंट की शुरुआत राउंड रॉबिन से होगी जिसमें हर टीम एक दूसरे से एक-एक मैच खेलेगी। जिसके बाद टॉप-4 टीमें सेमीफाइनल खेलेंगी और आखिर में दो बेस्ट टीमों के बीच 14 जुलाई को फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। वर्ल्ड कप 2019 इंग्लैंड और वेल्स के कुल 11 अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेला जाएगा।     

इस बार कई ऐसे दिग्गज हैं जो वर्ल्ड कप में नजर नहीं आएंगे। ये वो खिलाड़ी हैं जिनके बिना क्रिकेट का कोई भी टूर्नामेंट अधूरा लगता है। आज हम बता रहे हैं ऐसे 5 क्रिकेटर्स के बारे में जो न सिर्फ उनकी टीम बल्कि दुनिया के सभी फैन्स को इस वर्ल्ड कप पर खूब याद आएंगे।  

5. महेला जयावर्धने

जयावर्धने उन खिलाड़ियों में से हैं जिनकी सिर्फ मौजूदगी से श्रीलंका को मजबूती मिलती थी। जयवर्धने ने श्रीलंका की तरफ से 448 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 33.37 की औसत से कुल 12,350 रन बनाए। इनमें 19 शतक और 77 अर्धशतक भी शामिल हैं। अगर वर्ल्ड कप की बात की जाए तो उन्होंने इस टूर्नामेंट में 40 मैच खेले हैं, जिसमें 35.48 की औसत से उन्होंने 1100 रन बनाए हैं। इनमें 4 शतक और चार अर्धशतक लगाए। जयावर्धने 1999 से लेकर 2015 तक के बीच हुए सभी 5 वर्ल्ड कप का हिस्सा रहे।

4. कुमार संगकारा

श्रीलंका क्रिकेट टीम कुमार संगकारा की कप्तानी में 2011 के वर्ल्ड कप में फाइनल तक पहुंची थी। हालांकि फाइनल में इसे भारत से हार झेलनी पड़ी थी। संगकारा ने श्रीलंका की ओर से 404 वनडे मैचों की 380 पारियों में 41.98 की औसत से 14234 रन दर्ज किए हैं। वहीं विकेटकीपिंग करते हुए उन्होंने 501 डिस्मिसल किए हैं, जिसमें 402 कैच और 99 स्टंपिंग शामिल हैं। संगकारा ने वर्ल्ड कप में खेली 35 पारियों में 56.74 की औसत से 1532 रन बनाए। वर्ल्ड कप 2015 के सेमीफाइनल में हार झेलने के बाद संगकारा ने अंततराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। 

3. माइकल क्लार्क

माइकल क्लार्क की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने चौथा वर्ल्ड कप अपने नाम किया था। ऑस्ट्रेलिया की ओर से 245 वनडे मैचों में 7891 रन क्लार्क के नाम हैं। मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज क्लार्क गेंदबाजी भी करते थे। उन्होंने अपने करियर में कुल 57 विकेट हासिल किए थे। क्लार्क तीन बार 2007, 2011 और 2015 में वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा रहे हैं। वर्ल्ड कप के आंकड़े देखें तो क्लार्क ने 25 मैचों में 63 की औसत से 888 रन बनाए। 

2. ब्रेंडन मैकलम 

मैकुलम वो तूफानी बल्लेबाज हैं जिनकी कमी फैन्स इस वर्ल्ड कप में महसूस करेंगे। मैकुलम 2003 से 2015 तक हुए सभी वर्ल्ड कप का हिस्सा रहे। उन्होंने 34 मैचों में 33.72 की औसत से 742 रन बनाए हैं। वहीं कीवी टीम से खेलते हुए मैकुलम ने 260 मैचों का हिस्सा रहे। जिसमें उन्होंने 30.41 की औसत से 6083 रन बनाए। वहीं विकेट कीपिंग करते हुए उन्होंने 277 शिकार किये, जिसमें 262 कैच और 15 स्टंपिंग शामिल हैं। पिछले वर्ल्ड कप में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से टीम फाइनल तक पहुंची लेकिन आखिर में ऑस्ट्रेलिया से हार का सामना करना पड़ा। न्यूजीलैंड ने ब्रेंडन मैकुलम की कप्तानी में वर्ल्ड कप 2015 के सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका को हराकर इतिहास में पहली बार फाइनल में जगह बनाई थी।  

1. एबी डिविलियर्स

साउथ अफ्रीका के मिस्टर 360 के नाम से मशहूर एबी डिविलियर्स की जगह क्रिकेट में शायद ही कोई ले सकता हो। उन्होंने अपने करियर में कुल 228 वनडे मैच खेले हैं जिसमें 53.50 की औसत से 9577 रन बनाए हैं। इसमें 25 शतक और 53 अर्धशतक शामिल हैं। साथ ही उन्होंने विकेटकीपिंग करते हुए 181 शिकार किये, जिसमें 176 कैच और 5 स्टंपिंग) बार बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा है। इसके अलावा डिविलियर्स ने वर्ल्ड कप के 23 मैचों में हिस्सा लिया, जिसमें उन्होंने 63.52 की औसत से 1207 रन बनाए। इसमें 4 शतक और 6 अर्धशतक शामिल हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez