नई दिल्ली, जेएनएन। Deepak Chahar four wicket: तेज गेंदबाज दीपक चाहर मंगलवार को लगातार दो मैचों में हैट्रिक लेने से चूक गए। सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी में विदर्भ के खिलाफ चाहर ने तीन वाजिब गेंद पर तीन विकेट तो लिए, लेकिन वह एक विकेट लेने के बाद अगली गेंद वाइड कर बैठे जिस कारण इसे हैट्रिक नहीं माना जाएगा।

ऐसे में वह क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में एक और बड़ी उपलब्धि दर्ज करने से चूक गए। रविवार को बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए टी-20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में वह भारत की ओर से इस प्रारूप में हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बने थे। राजस्थान की ओर से खेलते हुए चाहर ने तिरुवनंतपुरम में विदर्भ के खिलाफ चार ओवर में 18 रन देकर चार विकेट लिए।

27 वर्षीय चाहर की गेंदबाजी की मदद से राजस्थान ने विदर्भ को नौ विकेट पर 99 रनों पर रोक दिया। चाहर की तीन वाजिब गेंद पर दर्शन नालकंडे, श्रीकांत वाघ और अक्षय वाडकर शिकार बने। ये सभी विकेट 13 ओवर की आखिरी तीन गेंदों पर आए। उन्होंने इस ओवर की चौथी गेंद पर विकेट लिया, फिर वाइड फेंकी और इसके बाद पांचवीं और छठी गेंद पर भी विकेट लिया। रविवार को चाहर ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय में गेंदबाजी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का रिकॉर्ड बनाया था। उन्होंने महज सात रन देकर छह विकेट लिए थे। भारत ने इस मैच को 30 रनों से जीता था और इसके साथ ही तीन मैचों की सीरीज भी 2-1 से अपने नाम की थी।

वहीं दीपक चाहर की धारदार गेंदबाजी के दम पर उनकी टीम ने विदर्भ को कम रन पर रोक दिया। इस मैच में चाहर ने तीन ओवर में 18 रन देकर चार विकेट लिए थे। हालांकि बाद में उनकी टीम को बीजेडी मेथड के आधार पर एक रन से हार मिली। बारिश से बाधित ये मैच 13-13 ओवर का खेला गया था। 

 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप