मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, जेएनएन। 14 अगस्त को इंग्लैंड की टीम के लिए तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने अपना टेस्ट डेब्यू किया। लंदन के ऐतिहासिक मैदान लॉर्ड्स में जोफ्रा आर्चर ने अपने इंटरनेशनल टेस्ट करियर की पहली गेंद फेंकी। इससे पहले जोफ्रा आर्चर कैरेबियाई मूल के होने के बावजूद इंग्लैंड के लिए टी20 इंटरनेशनल और वनडे इंटरनेशल मैचों में डेब्यू कर चुके थे। 

इंग्लैंड की टीम को क्रिकेट के इतिहास में पहली बार वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले जोफ्रा आर्चर ने अपने पहले ही टेस्ट मैच में दिखा दिया कि वे मौजूदा समय के काफी खतरनाक गेंदबाज हैं। विकेट चटकाने की बात हो, रफ्तार की बात हो या फिर खतरनाक बाउंसर। जोफ्रा आर्चर के पास हर एक हथियार है, जिसका वे बखूबी इस्तेमाल कर रहे हैं।  

आपको जानकार हैरानी होगी कि साउथ अफ्रीका की टीम के धाकड़ तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने दो साल पहले ही जोफ्रा आर्चर को लेकर एक बड़ी भविष्यवाणी की थी। डेल स्टेन ने दिसंबर 2017 में एक ट्वीट करते हुए कहा था कि जोफ्रा आर्चर एक दिन स्पेशल गेंदबाज बनेगा। डेल स्टेन की ये भविष्यवाणी बिल्कुल ठीक साबित हो रही है क्योंकि जोफ्रा आर्चर अपना जलवा बिखेर रहे हैं। 

लॉर्ड्स टेस्ट और एशेज सीरीज के दूसरे मैच के चौथे दिन अपनी तेज रफ्तार वाली बाउंसर से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को घायल करने वाले जोफ्रा आर्चर के लिए डेल स्टेन ने लिखा था,  "Sussex  के लिए खेलते समय मैंने जोफ्रा आर्चर के ऊपर पैनी नज़र रखी। जोफ्रा आर्चर अब बीबीएल(बांग्लादेश प्रीमियर लीग) खेल रहा है, ये बच्चा एक दिन स्पेशल गेंदबाज बनेगा।" 

बता दें कि जोफ्रा आर्चर ने एक वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने के रिकॉर्ड को भी धराशायी किया था। जोफ्रा आर्चर ने वर्ल्ड कप के 12वें सीजन में 20 विकेट झटके थे। वहीं, अपने पहले टेस्ट मैच में जोफ्रा आर्चर ने 5 विकेट झटके और इंग्लैंड की टेस्ट टीम में भी अपनी जगह पक्की कर ली। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप