नई दिल्ली, जेएनएन। Anshuman Rath Wants to play for India: भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेलना किसी भी खिलाड़ी के लिए गर्व की बात है और कई युवा खिलाड़ी इस चाहत में रहते हैं कि उन्हें टीम इंडिया की तरफ से खेलने का मौका मिल जाए। इन युवा खिलाड़ियों में अब विदेशी खिलाड़ी भी शामिल हो रहे हैं। अब एक और युवा क्रिेेकेटर जो भारतीय मूल के हैं,लेकिन दूसरे देश के लिए खेल रहे हैं और वहां के कप्तान भी हैं उन्होंने टीम इंडिया के लिए खेलने की इच्छा जाहिर की है। यही नहीं भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा बनने के लिए उन्होंने अपने देश की कप्तानी तक छोड़ दी है। 

ये क्रिकेटर कोई और नहीं बल्कि हांगकांग क्रिकेट टीम (Hong Kong cricket team) के कप्तान अंशुमन रथ (Anshuman Rath) हैं। अंशुमन ने टीम इंडिया के लिए खेलने की इच्छा जाहिर की है। इसके लिए उन्होंने अपनी टीम की कप्तानी छोड़ दी है और खुद को रणजी ट्रॉफी में सेलेक्शन के लिए उपलब्ध बताया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि इतने दिनों तक हांगकांग क्रिकेट ने जो मेरे लिए किया है उसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद कहना चाहता हूं। इस टीम से जुड़े रहने और खेलने का मेरा सफर शानदार रहा, लेकिन अब वक्त आ गया है कि मैं आगे की तरफ बढ़ूं। मैं हांगकांग क्रिकेट को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं। 

अंशुमन रथ का वनडे क्रिकेट में रिकॉर्ड काफी शानदार रहा है। उन्होंने हांगकांग के लिए 18 वनडे मैैचों में 51.75 की औसत से  828 रन बनाए हैं। वहीं पांच फर्स्ट क्लास मैचों में उन्होंने 62.76 की औसत से 391 रन बनाए हैं। 20 टी20 मैचों उन्होंने 18.88 की औसत से उन्होंने अब तक 321 रन बनाए हैं। उन्होंने वनडे में 14, टी20 में 5 और फर्स्ट क्लास मैचों में 7 विकेट लिए हैं। अंशुमन रथ का कहना है कि वो रणजी ट्रॉफी के लिए उपलब्ध हैं और इसमें अच्छे प्रदर्शन के जरिए टीम इंडिया में जगह बनाना चाहते हैं।  

अंशुमन रथ ने बताया कि मैं क्रिकेट से बेहद प्यार करता हूं और अपने करियर को लंबा करने के लिए इस तरह का फैसला किया है। भारत के लिए खेलना मेरा हमेशा से सपना रहा है। वहीं क्रिकेट हांगकांग की तरफ से अंशुमन के बारे में कहा कि उन्होंने हमारी टीम के लिये बेहतरीन योगदान दिया और टीम के कप्तान भी रहे। इसके लिए हम उन्हें धन्यवाद देते हैं। इसके अलावा भविष्य के लिए हम उन्हें अपनी शुभकामनाएं भी देते हैं। 

आपको बता दें कि यूएई अंडर 19 टीम के रिषभ मुखर्जी ने भी टीम इंडिया के लिए खेलने की इच्छा जाहिर की थी और इसके लिए उन्होंने कोलकाता में बसने की योजना भी बना ली है। वो भी भारतीय मूल के ही हैं और यूएई को छोड़कर भारत जल्द ही लौट सकते हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप