नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम की जीत का सफर आखिरकार वर्ल्ड कप 2019 के बाद खत्म हो गया और न्यूजीलैंड की टीम ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में भारत को दूसरे मुकाबले में मात देकर सीरीज अपने नाम कर ली। आपको बता दें कि टीम इंडिया ने इंग्लैंड में पिछले साल खेले गए वनडे विश्व कप के बाद से सिमित ओवर के प्रारूप का कोई भी सीरीज नहीं गंवाया था, पर अब भारत के इस जीत के क्रम पर विराट लग गया। टीम इंडिया को हराने में सबसे बड़ी भूमिका न्यूजीलैंड की तरफ से वनडे में डेब्यू करने वाले 6 फीट 8 इंच लंबे काइल जैमीसन का रहा। काइल ने इस मैच में ऑलराउंड प्रदर्शन किया और अपने डेब्यू वनडे में ही प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए। 

काइल जैमीसन ऑलराउंड प्रदर्शन से बने प्लेयर ऑफ द मैच

काइल जैमीसन ने भारत के खिलाफ इस मैच के जरिए वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया था। न्यूजीलैंड की तरफ से काइल को टीम में शामिल किया जाना टीम के हित में रहा और उन्होंने बल्लेबाजी व गेंदबाजी दोनों जगह अहम वक्त पर टीम के लिए बड़ी भूमिका निभाई। पहली पारी में जब एक वक्त ऐसा लग रहा था कि न्यूजीलैंड की टीम शायद ही 250 के आंकड़े को छू पाएगी उस वक्त उन्होंने 24 गेंदों पर तेज एक चौका व दो छक्कों की मदद से नाबाद 25 रन बनाकर टीम के स्कोर को 273 तक पहुंचा दिया। 

इसके बाद गेंदबाजी में भी उन्होंने कमाल किया और दो विकेट लिए। उन्होंने भारतीय ओपनर बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को चलता किया जब वो अच्छा खेल रहे थे और 19 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 24 रन बना चुके थे। इसके बाद उन्होंने निचले क्रम के बल्लेबाज नवदीप सैनी को भी तब आउट किया जब वो तेज गति से रन बना रहे थे और 49 गेंदों पर 45 रन 5 चौके व 2 छक्कों की मदद से बना चुके थे। 

यानी उन्होंने टीम के लिए तब रन बनाए जब टीम को रन की जरूरत थी और विकेट तब लिए जब भारतीय टीम के दोनों बल्लेबाज न्यूजीलैंड के लिए खतरनाक बनते जा रहे थे। उनकी इस शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।