लंदन, प्रेट्र। वेस्टइंडीज के कुछ खिलाड़ियों ने कोविड-19 महामारी की वजह से इंग्लैंड दौरे पर जाने से मना कर दिया। इन खिलाड़ियों में शिमरोन हेटमायर व डेरेन ब्रावो भी शामिल हैं। इन वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग और इयान बिशप ने इन खिलाड़ियों द्वारा किए गए इस फैसले पर अपनी बात कही है। 

वेस्टइंडीज के पूर्व खिलाड़ियों  ने कहा कि डेरेन ब्रावो और शिमरोन हेटमायर के कोविड-19 महामारी से उत्पन्न सुरक्षा चिंताओं के कारण तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए इंग्लैंड की यात्रा नहीं करने के फैसले का सम्मान करना चाहिए, हालांकि उन्होंने माना कि टीम को उनकी कमी महसूस होगी। ब्रावो और हेटमायर के अलावा कीमो पॉल ने भी आठ जुलाई से शुरू होने वाली विजडन ट्रॉफी के लिए ब्रिटेन जाने से इनकार कर दिया।

होल्डिंग ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि जहां तक वेस्टइंडीज क्रिकेट का संबंध है तो मुझे लगता है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं किसी को यह नहीं कहने जा रहा हूं कि कोविड 19 के समय में उन्हें इंग्लैंड जाना चाहिए, कोई भी बीमार पड़ सकता है या फिर और भी बुरा हो सकता है। उन्होंने कहा, ‘लेकिन साथ ही मुझे लगता है कि यह वेस्टइंडीज टीम के दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि ये काफी प्रतिभाशाली हैं और उनकी कमी खलेगी।’

होल्डिंग हालांकि मानते हैं कि इंग्लैंड की सीरीज ब्रावो के लिए अपने करियर को फिर से पटरी पर लाने के लिए अच्छा मौका होती जिन्हें नवंबर में अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट से बाहर कर दिया गया था। वहीं बिशप ने भी होल्डिंग से सहमति जताते हुए कहा कि खिलाड़ियों को स्वास्थ्य संकट के हालात में विकल्प मिलना चाहिए।

बिशप ने त्रिनिदाद एक्सप्रेस से कहा कि आपको खिलाड़ियों को विकल्प देना होगा क्योंकि यह विश्व स्वास्थ्य संकट है। उन्होंने कहा कि अगर एक कोई खिलाड़ी अपने हेल्थ संबंधी कोई जोखिम नहीं लेना चाहता है तो आप उसके खिलाफ नहीं हो सकते। खिलाड़ियों को पता होना चाहिए कि वे जोखिम ले रहे हैं क्योंकि उनकी जगह आने वाला खिलाड़ी काफी सफल हो सकता है। आप यह जोखिम लेते हो क्योंकि ऐसी परिस्थिति में अन्य कोई बाजी मार ले सकता है। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस