नई दिल्ली, जेएनएन। Virat Kohli best innings in t20 international match: वेस्टइंडीज के खिलाफ भारतीय क्रिकेट टीम (Indian cricket team) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने हैदराबाद में अंतरराष्ट्रीय टी 20 करियर (Hyderabad T20 match) की अपनी बेस्ट पारी खेलते हुए टीम इंडिया को जीत दिलाई। विराट की नाबाद पारी के दम पर भारतीय टीम ने तीन मैचों की टी 20 सीरीज का पहला मुकाबला 6 विकेट से जीता और सीरीज का शानदार आगाज किया। अब हैरानी वाली बात ये है कि विराट ने अपने सबसे बेस्ट पारी को लेकर कहा कि युवा क्रिकेटर उनकी इस पारी को फॉलो ना करें। 

दरअसल विराट कोहली ने हैदराबाद में पहले मुकाबले की दूसरी पारी में जब बल्लेबाजी करने आए तो उन्होंने काफी धीमी शुरुआत की। विराट कोहली ने अपनी पारी की शुरुआती दस गेंदों पर सिर्फ 7 रन बनाए। इस मैच में विराट को पारी की शुरुआत में बल्लेबाजी करने में थोड़ी दिक्कत महसूस हो रही थी। मैच जीतने के बाद विराट ने अपनी बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए साफ कहा कि मैं नहीं चाहता कि मेरी इस पारी के शुरुआती हिस्से को कोई भी युवा बल्लेबाज फॉलो करे। 

विराट कोहली ने कहा कि मेरी बल्लेबाजी को जो भी युवा बल्लेबाज देख रहे थे मैं उनसे यही कहना चाहूंगा कि वो इसके पहले हिस्से को बिल्कुल भी फॉलो नहीं करें। मैं उस वक्त काफी खराब खेल रहा था। मैं दूसरे छोर पर बल्लेबाजी कर रहे केएल राहूुल पर किसी भी तरह का दवाब नहीं बनाना चाह रहा था, लेकिन मैं रन बनाने में भी कामयाब नहीं हो पा रहा था। इसके बाद मैंने सोचा कि मेरे साथ क्या गलत हो रहा है और मैंने महसूस किया कि मैं स्लॉगर नहीं बल्कि टाइमर हूं। इसके बाद मैंने अपने खेलने के तरीके में बदलाव किया और फिर जेसन होल्डर की पारी के बाद मैच बदल गया। 

अपनी बल्लेबाजी को लेकर विराट ने साफ कहा कि मैं उस तरह का बल्लेबाज नहीं हूं जो हवा में शॉट खेलकर दर्शकों का मनोरंजन करता है। मेरा यही लक्ष्य था कि मैं ताबड़तोड़ क्रिकेट नहीं खेलूं। टीम की रणनीति यही थी कि मैं या फिर रोहित लंबी पारी खेलें। मैं जिस भी टीम के लिए खेलता हूं उसमें मेरी यही भूमिका होती है। टी 20 प्रारूप के लिए मैं अपने खेल में किसी भी तरह का कोई बदलाव नहीं लाना चाहता। मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों में खेलने वाला खिलाड़ी हूं और मेरा लक्ष्य हर प्रारूप में रन बनाना है। 

आपको बता दें कि विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय टी 20 करियर की सबसे बेस्ट पारी खेली और भारत को जीत दिलाई। उन्होंने 50 गेंदों पर नाबाद 94 रन बनाए जिसमें 6 चौके व 6 छक्के शामिल थे। विराट को उनकी इस शानदाप पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। अंतरराष्ट्रीय टी 20 क्रिकेट में वो 12वीं बार मैन ऑफ द मैच बने। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस