नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के दूसरे मुकाबले में 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 170 रन का स्कोर खड़ा किया था। वेस्टइंडीज की टीम ने धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए 18.3 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया। इस जीत के साथ ही वेस्टइंडीज ने सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली है।

भारतीय टीम को तिरुवनंतपुरम में खेले गए टी20 मुकाबले में रविवार को वेस्टइंडीज ने हराकर सीरीज में वापसी कर ली। इस हार के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली बेहद नाराज नजर आए। कोहली ने मैच के बाद टीम की खराब फील्डिंग की आलोचना की। उन्होंने साफ कहा कि अगर टीम इंडिया की फील्डिंग ऐसी रही तो फिर चाहे हम कितने भी रन क्यों ना बना लें, टीम को जीत नहीं मिलने वाली।

विराट ने कहा, "अगर हम ऐसे ही खराब फील्डिंग करते रहेंगे तो फिर चाहे जितने भी रन क्यों ना बना लें वो काफी नहीं होंगे। हम पिछले दो मुकाबलों में फील्डिंग में बहुत ही ज्यादा खराब थे। हमने एक ही ओवर में दो-दो कैच टपकाए।" 

भुवनेश्वर के एक ओवर में छूटे 2 कैच 

वेस्टइंडीज की टीम के ओपनर लिंडल सिमंस और इविन लुईस ने भारत के खिलाफ मैच विनिंग पारी खेली। रविवार को खेले गए दूसरे टी20 में सिमंस और लुईस दोनों ही बल्लेबाजों के कैच एक ही ओवर में छूटे थे। सिमंस ने नाबाद 67 रन बनाए जबकि लुईस ने 40 रन की पारी खेली। भुवनेश्वर कुमार ने वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरुआती ओवर में ही भारत के लिए मौके बनाए थे। पारी का पांचवीं ओवर करने आए भुवी के ओवर की दूसरी गेंद पर वॉशिंगटन सुंदर ने लिंडल सिमंस का कैच टकपाया था। इसके बाद ओवर की चौथी गेंद पर रिषभ पंत ने शानदार कैच लपकने के बाद इसे टपका दिया।

कोहली ने बताया कैसे मैच हाथ से निकला

भारतीय कप्तान ने माना कि टीम इंडिया ने इस मैच में बेहतरीन स्थिति में होने के बाद मौका गंवाया। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि 16वें ओवर तक हम बहुत ही अच्छी स्थिति में थे। लेकिन उसके बाद आखिरी के 4 ओवर में हमने सिर्फ 30 रन बनाए। हमें इस बारे में ध्यान देने होगा।

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस