नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम चौथे टी 20 मैच के दौरान भी लगभग अपनी हार मान ही चुकी थी क्योंकि कीवी टीम को आखिरी ओवर में छह गेंदों पर सात रन की जरूरत थी जो आसान लग रहा था। विराट कोहली ने मैच का आखिरी ओवर फेंकने के लिए शार्दुल को गेंद थमा दी और फिर उन्होंने मैच को सुपर ओवर तक पहुंचा दिया और फिर क्या हुआ पूरी दुनिया ने देखा। शार्दुल ने जीत के लिए जरूरी सात रन नहीं बनने दिए और उन्होंने तीन विकेट भी लिए। हालांकि इस ओवर में कुल चार विकेट गिरे जिसमें एक रन आउट भी शामिल था।

शार्दुल ठाकुर ने पहले इस मैच में 15 गेंदों पर 20 रन बनाए थे और फिर निर्णायक ओवर में दो विकेट भी लिए। उन्हें उनके इस प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया। इस जीत को लेकर शार्दुल ठाकुर ने कहा कि हमारी टीम ने पिछले मैच से सीखा कि उम्मीद नहीं खोनी चाहिए और यही हमने चौथे मुकाबले में भी किया। उन्होंने कहा कि हमें ये अच्छा लग रहा है कि हम इस तरह के रोमांचक मुकाबले खेलते हैं। पिछले दो मुकाबलों में इससे ज्यादा हम कुछ नहीं मांग सकते थे। पिछले मैच में हमने ये सीखा कि उम्मीद कभी नहीं खोनी चाहिए। आखिरी ओवर की पहली गेंद पर विकेट मिलने से ये फायदा हुआ कि इससे मेजबान टीम के बल्लेबाज नर्वस हो गए। 

अपनी बल्लेबाजी के बारे में उन्होंने कहा कि मैंने बल्ले से अच्छा योगदान दिया जिससे टीम को मदद मिली, हालांकि मुझे और खेलना चाहिए था। उम्मीद है कि अगले मैच में ऐसा कर पाने का मौका मिले। आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में न्यूजीलैंड की टीम ने अब तक कुल 8 सुपर ओवर मुकाबले खेले हैं जिसमें उसे सात बार हार का सामना करना पड़ा है और सिर्फ एक ही बार जीत मिली है। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस