मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

 नई दिल्ली, जेएनएन। विराट कोहली के एशिया कप 2018 में हिस्सा नहीं लेने की वजह से कई सवाल खड़े हुए थे साथ ही क्रिकेट फैंस को भी निराशा हुई है, लेकिन अब टीम के कोच रवि शास्त्री ने इस राज से पर्दा उठा दिया है कि उन्हें क्यों एशिया कप के दौरान आराम दिया गया। शास्त्री ने विराट के बारे में कहा कि वो शारीरिक तौर पर काफी फिट हैं और आप उन्हें मैदान से बाहर नहीं देख सकते। विराट के बारे में सबसे अहम बात ये कि जब वो खेलते हैं तब पता चलता है कि वो खेल में किस स्तर की तीव्रता लेकर आते हैं। "उन्हें सिर्फ इसलिए आराम दिया गया था ताकि वो मानसिक तौर पर अपनी थकान दूर कर सकें। थोड़े दिनों तक क्रिकेट से दूर रहकर खुद को तरोताजा कर लें और पूरी तरह से फ्रेश होकर वापसी करें"। 

शास्त्री ने कहा कि इस तरह की प्रक्रिया टीम के अन्य खिलाड़ियों के साथ भी अपनाई जाएगी। हम ऐसा टीम के कई खिलाड़ियों के साथ करेंगे। हमने वेस्टइंडीज के खिलाफ जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर को आराम दिया है ताकि वो पूरी तरह से और शक्तिशाली होकर मैदान पर वापसी करें। विराट वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज में 15 सदस्यीय भारतीय दल की अगुआई करेंगे। भारत वेस्टइंडीज के खिलाफ चार अक्टूबर से राजकोट में टेस्ट सीरीज का आगाज करेगा। इस बार टीम में ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन को शामिल नहीं किया गया। टीम में पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल को शामिल किया गया जबकि भुवी और बुमराह को आराम दिया गया। मुरली विजय को इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी दो टेस्ट मैच से टीम के बाहर कर दिया गया था और वो वेस्टइंडीज के खिलाफ टीम में शामिल नहीं किया गया। इसके अलावा दिनेश कार्तिक और करुण नायर भी टेस्ट टीम में वापसी नहीं कर सके। 

दिनेश कार्तिक के टीम से बाहर होने का मतलब है कि रिषभ पंत इस वक्त टेस्ट टीम में इकलौते विकेटकीपर हैं। पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी तीन टेस्ट मैच खेले थे और आखिरी टेस्ट मैच में उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ शतक लगाया था। इसके अलावा हनुमा विहारी ने भी ओवल टेस्ट यानी इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट में भारत के लिए डेब्यू किया था और अपने प्रदर्शन से प्रभावित भी किया था। विहारी भी 15 सदस्यीय भारतीय टेस्ट टीम का हिस्सा हैं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप