केपटाउन, जेएनएन। साल भर बाद दक्षिण अफ्रीकी टीम में वापसी करने वाले डेल स्टेन का भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में खेलना मुश्किल है। केपटाउन की परिस्थितियों के मुताबिक टीम तीन तेज गेंदबाज, एक ऑलराउंडर और एक स्पिनर खिलाएगी जिसमें स्टेन फिट नहीं बैठते।

दक्षिण अफ्रीकी टीम के कोच ओटिस गिब्सन ने कहा कि स्टेन फिट हैं लेकिन मुझे नहीं पता कि वह इस सप्ताह खेलते हुए दिखाई देंगे या नहीं। वह एक साल बाद टीम में आए हैं। मुझे नहीं लगता कि अगर हम तीन तेज गेंदबाज और एक स्पिनर लेकर खेलेंगे तो उन तीन तेज गेंदबाजों में उनकी जगह बनती है। अगर कुछ हो गया और वह मैच खत्म नहीं कर पाए तो टीम खराब स्थिति में आ जाएगी। इसका मतलब यह नहीं है कि वह मैच खत्म नहीं कर सकते लेकिन गर्मी की शुरुआत के पहले मैच में ही रिस्क लेना सही नहीं होगा। उनके नाम पर चर्चा होगी लेकिन अंतिम एकादश के संयोजन के हिसाब से ही सबकुछ तय होगा।

गिब्सन ने कहा कि आपको जो तीन टेस्ट खेलने हैं और वह अलग-अलग परिस्थितियों में खेलने हैं। केपटाउन में यहां पर विकेट जल्दी सूखती है और इसलिए आपको एक अतिरिक्त गेंदबाज (ऑलराउंडर) लेकर चलना होता है। जब आप सेंचुरियन जाओगे तो स्थितियां अलग होंगी। हम हर परिस्थिति के हिसाब से टीम चुनेंगे। यह विश्व स्तरीय गेंदबाजी आक्रमण है और हम सर्वश्रेष्ठ संयोजन के साथ उतरेंगे। इस मैच को जीतने के बाद अगले मैच के बारे में सोचेंगे।

गिब्सन ने कहा कि वनडे के लिए मैं बहुत ज्यादा परेशान नहीं हूं क्यों चार साल का चक्र होता है। अब बिना विश्व कप जीते हुए भी नंबर वन बन सकते हो। अगर आप विश्व कप जीत गए तो यह महत्वपूर्ण नहीं होता कि आप किस नंबर पर हो। टेस्ट क्रिकेट में यह अलग है। आप सर्वश्रेष्ठ टीम के खिलाफ सीरीज खेलते हो और उसके अंत पर आपको इनाम मिलता है। हमारी टीम के पास नंबर वन बनने का उद्देश्य है। अगर हम अगली दो सीरीज जीत लेते हैं तो हम फिर से इसके बेहद करीब होंगे। अगली दो सीरीज निर्धारित करेंगे कि हम कहां खड़े हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Pradeep Sehgal