ढाका, पीटीआइ। बांग्लादेश क्रिकेट टीम के टी20 और टेस्ट कप्तान शाकिब अल हसन को बोर्ड से बड़ी राहत मिली है। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड सेंट्रल कॉन्ट्रैक्स का उल्लंघन करने के लिए शाकिब पर कानूनी कार्रवाई नहीं करेगी लेकिन उनको कारण बताओ नोटिस का जवाब देना होगा। बोर्ड के सीईओ निजाउद्दीन चौधरी ने इस बात की जानकारी दी।

शाकिब ने बांग्लादेश की एक टेलिकॉम कंपनी के साथ करार किया है। वह इस कंपनी के ब्रांड एम्बेसडर के तौर पर काम करने वाले हैं जो उनके सेंट्रल कॉन्ट्रैक्स के बनाए क्लॉज का उल्लंघन है। जिस कंपनी के साथ शाकिब ने करार किया है वो टीम के स्पॉन्सर टीम की विराधी कंपनी है।

सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक शाकिब ने नियमों का उल्लंघन किया है जिसकी वजह से BCB के अध्यक्ष नजमुल हसन बेहद नाराज हैं। उन्होंने शाकिब के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने तक की धमकी दी थी। लेकिन अब BCB के CEO चौधरी ने यह साफ किया है कि कप्तान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई नहीं की जाएगी।

उन्होंने एक बांग्लादेशी अखबार से कहा, "यह बोर्ड के अंदर का मामला है, इसी वजह से शाकिब के खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई किए जाने की बात नहीं उठती। फिर भी उनको इस बात का जवाब तो देने ही पड़ेगा कि आखिर उन्होंने सेंट्रेल कॉन्ट्रैक्स के नियमों का उल्लंघन करते हुए ऐसी कंपनी के साथ डील क्यों साइन की।"

बांग्लादेश को अगले महीने भारत के दौरे पर टी20 और टेस्ट सीरीज खेलनी है। शाकिब इन दोनों ही फॉर्मेट में टीम की कप्तानी करते हैं। भारत दौरे पर बांग्लादेश की टीम तीन टी20 और दो टेस्ट मैच खेलेगी।

इससे पहले BCB अध्यक्ष हसन ने कहा था, "हम उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई लेने जा रहे हैं। इस मामले में हम किसी को भी नहीं जाने देने वाले। हम इसके लिए मुआवजे की मांग करेगे। हम उस कंपनी और साथ ही खिलाड़ी से भी मुआवजे की मांग करेंगे।"

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस