नई दिल्ली, जेएनएन। चेन्नई सुपर किंग्स को आइपीएल 2020 के 34वें मैच में 5 विकेट से हार मिली और ये इस टीम की 9 मैचों में छठी हार थी। ऐसा नहीं था कि टीम का स्कोर खराब था, लेकिन दिल्ली ने बल्लेबाजी काफी अच्छी की। खास तौर पर शिखर धवन ने शानदार नाबाद शतकीय पारी खेली और सीएसके को हार मिली। इस हार के बाद सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने कहा कि, आखिरी ओवर ब्रावो को करना था, लेकिन वो फिट नहीं थे और मैच से बाहर चले गए थे। यही वजह रही कि मुझे आखिरी ओवर रवींद्र जडेजा से करवाना था। 

धौनी ने कहा कि मुझे आखिरी ओवर के लिए करन शर्मा व रवींद्र जडेजा दोनों में से किसी एक का चयन करना था और मैं जडेजा के साथ गया और शायद ये काफी नहीं था। एम एस ने शिखर धवन की बल्लेबाजी की काफी तारीफ की और कहा कि दिल्ली के लिए उनका विकेट पर रहना अहम था, लेकिन हमने उनके काफी कैच छोड़े। वो एक ऐसे बल्लेबाज हैं जो अगर क्रीज पर मौजूद हैं तो स्कोर बोर्ड चलता रहता है। वो बीच-बीच में गेंदबाजों के खिलाफ चांस भी लेते हैं और स्ट्राइक रेट को भी बनाए रखते हैं। 

एम एस ने आगे कहा कि, मुझे ऐसा लगता है कि शिखर धवन का विकेट हमारी जीत के लिेए काफी जरूरी था। वहीं उन्होंने पिच के बारे में कहा कि, पहली और दूसरी पारी की पिच में काफी फर्क था। दूसरी पारी में पिच का बर्ताव अलग था और वो बेहतर दिख रही थी साथ ही गेंद बल्ले पर ज्यादा अच्छे से आ रही थी। इस मैच में शिखर धवन ने शानदार बल्लेबाजी की और टीम के अन्य बल्लेबाजों ने उनका अच्छा साथ निभाया। हम उनसे जीत का श्रेय नहीं ले सकते हैं। 

आपको बता दें कि दिल्ली को जीत के लिए 180 रन का टारगेट मिला था और धवन ने नाबाद 101 रन की पारी खेलते हुए अपनी टीम को 5 विकेट से जीत दिला दी थी। उन्हें उनकी बेहतरीन बल्लेबाजी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया साथ ही आइपीएल में ये उनका पहला शतक था। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस