कोलंबो, प्रेट्र। दिग्गज श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा का कहना है कि भारत के खिलाफ सीमित ओवरों की वर्तमान सीरीज के बाद वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने भविष्य के बारे में मूल्यांकन करेंगे और प्रदर्शन में गिरावट आने पर वह संन्यास ले लेंगे।

 

मलिंगा ने चौथे वनडे में विराट कोहली को आउट कर अपने 300 वनडे विकेट पूरे किए। मलिंगा ने कहा, 'मैं पैर की चोट के कारण 19 महीने बाद खेल रहा हूं। जिंबाब्वे और भारत के खिलाफ सीरीज में मैं अच्छा नहीं खेल सका। मुझे देखना होगा कि इस सीरीज के बाद क्या स्थिति है। मैं मूल्यांकन करूंगा कि कितने समय तक मेरा शरीर मुझे खेलने की इजाजत देता है। इसका कोई मतलब नहीं होता कि मैं कितना अनुभवी हूं, यदि मैं टीम के लिए मैच नहीं जीत सकता और टीम को जिसकी जरूरत है वह नहीं कर सकता। ऐसे में मेरे खेलते रहने की कोई जरूरत नहीं है। मुझे देखना होगा कि अगले तीन या चार महीनों में मैं उन 19 महीनों की भरपाई करके फिर से पुरानी फॉर्म हासिल कर पाता हूं या नहीं।

 

ध्यान देना होगा : श्रीलंका के कार्यवाहक कप्तान मलिंगा ने कहा कि विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच 219 रन की साझेदारी ने उनसे मैच छीन लिया और वे उनके आक्रामक शतकों के जवाब में हमला नहीं बोल सके। मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में मलिंगा ने कहा, 'विराट और रोहित वाकई में बहुत अच्छा खेले। हम गेंद को लगातार अच्छी लाइन और लेंथ पर नहीं रख पाए। मुझे लगता है कि इस तरह के विकेट पर हमारी लेंथ काफी अहम होती है और हमें इस पर और ध्यान देना होगा। विराट ने पहले 30-40 रन बहुत जल्दी बनाए।

 

बल्लेबाजों का बचाव : मलिंगा ने बल्लेबाजों का बचाव किया। उन्होंने कहा, 'हमने अच्छी गेंदबाजी नहीं की। हमारे पास एंजेलो मैथ्यूज के रूप में एकमात्र अनुभवी बल्लेबाज था। अन्य युवा खिलाड़ी हैं, जिन्हें समय लगेगा। वे अभी सीख रहे हैं और अभी उनमें स्वाभाविक खेल दिखाने का आत्मविश्वास नहीं है। वे रन बनाने की कोशिश कर रहे हैं और स्वाभाविक खेल नहीं दिखा पा रहे हैं।

 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sanjay Savern