नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian cricket team) के कुछ खिलाड़ियों ने वेस्टइंडीज के खिलाफ हैदराबाद में खेले गए पहले टी 20 मैच में कैच छोड़े थे। इसके बाद टीम इंडिया (Team India) की फील्डिंग पर ही सवाल खड़े हो गए थे पर अब टीम के ओपनर बल्लेबाज लोकेश राहुल (KL Rahul) ने साफ किया है कि आखिर क्यों हैदराबाद में खिलाड़ियों के हाथों इतने कैच ड्रॉप हुए। पहले मुकाबले में भारतीय फील्डरों ने कुल पांच कैच छोड़े थे। इनमें वाशिंगटन सुंदर ने हेटमायर का जबकि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने किरोन पोलार्ड का कैच ब्राउंड्री पर छोड़ दिया था। भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने भी पहली पारी के आखिरी ओवर में जेसन होल्डर का कैच छोड़ दिया था। वैसे भारत ने ये मैच छह विकेट से जीत लिया था फिर भी फील्डिंग को लेकर बातें जरूर की गई थी। 

वैसे पहले मैच में सिर्फ भारत की नहीं बल्कि वेस्टइंटीज की फील्डिंग भी ज्यादा अच्छी नहीं रही थी। अब लोकेश राहुल ने बताया कि इस मैच में लाइट को लेकर परेशानी थी। कई बार फ्लड लाइट की रोशनी की वजह से गेंद को कैच करते वक्त खिलाड़ियों की नजरें भटक जाती है और पहले मैच में भी कुछ ऐसा ही हुआ। हम इससे पहले भी इस मैदान पर खेल चुके थे और काफी वक्त से खेल रहे हैं। हमें ये पता है कि क्या करना चाहिए और एक टीम के तौर पर हमें इस तरह की बातों की शिकायत नहीं करनी चाहिए। 

लोकेश राहुल ने कहा कि हालांकि हमने फ्लड लाइट की रोशनी में प्रैक्टिस करने की कोशिश की थी। हमें ये पता है कि हमने रोशनी में अभ्यास नहीं किया था साथ ही इस बात की भी अंदाजा था कि यहां पर फ्लडलाइट काफी नीचे है। हालांकि फील्डरों ने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की, लेकिन कई बार ध्यान भटक जाता है और गेंद हाथ से निकल जाती है। इस तरह की बातें खेल का अहम हिस्सा हैं। 

 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस