नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। टी20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए जिस 18 सदस्यीय (तीन रिजर्व खिलाड़ी) भारतीय टीम का एलान किया गया उनमें से कुछ नाम काफी चौंकाने वाले रहे। इस बार शिखर धवन और युजवेंद्रा चहल जैसे खिलाड़ियों को ड्राप कर दिया गया तो वहीं आर अश्विन ने 4 साल के बाद टीम में कमबैक किया। इसके अलावा श्रेयस अय्यर भी 15 सदस्यीय टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे। हालांकि वो तीन रिजर्व खिलाड़ियों में मौजूद हैं, लेकिन उन्हें टीम में तभी शामिल किया जा सकता है जब मुख्य टीम में से कोई खिलाड़ी किसी कारण से बाहर हो जाए। 

दाएं हाथ के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर को मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के पहले वनडे के दौरान कंधे में चोट लग गई थी। हालांकि अय्यर अब फिट हैं और चयन के लिए उपलब्ध हैं, लेकिन वह टी20 विश्व कप की बस से वो चूक गए। उन्हें स्टैंडबाय सूची में रखा गया है और उन्हें केवल तभी टीम में शामिल किया जाएगा जब चयनकर्ता कोई बदलाव करते हैं या यदि कोई खिलाड़ी बाहर हो जाता है। अब इस बार उनकी जगह इशान किशन ने ली, जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण किया था। मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा के अनुसार, प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से अय्यर की अनुपस्थिति ने किशन के चयन का रास्ता साफ किया। 

चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने इशान के बारे में कहा कि, 'वो सलामी बल्लेबाज के तौर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं और मध्य क्रम के बल्लेबाज के रूप में भी फिट हो सकते हैं साथ ही विकेट-कीपिंग भी करते हैं। उन्होंने एक खिलाड़ी के तौर पर हमें कई विकल्प दिए हैं। वह पहले ही एकदिवसीय प्रारूप में ओपनिंग कर चुके हैं और यहां तक कि पहले गेम में अर्धशतक भी बनाया था। वह मध्यक्रम में स्पिन के भी अच्छे खिलाड़ी हैं। एक बाएं हाथ का बल्लेबाज टीम के लिए अहम है। जब विभिन्न देशों के लेग स्पिनर हमारे खिलाफ अटैक पर आते हैं, तो ईशान जैसा विस्फोटक बल्लेबाज महत्वपूर्ण होता है। श्रेयस ने हाल ही में ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला है इसलिए हमने उसे स्टैंडबाय में रखा है।'

Edited By: Sanjay Savern