नई दिल्ली, जेएनएन। भारत में कोविड 19 महामारी की स्थिति को देखते हुए बीसीसीआइ ने इसका आयोजन इस साल यूएई में कराने का फैसला किया। एक वक्त तो ऐसा लग रहा था कि इस साल शायद ही इसका आयोजन हो पाए, लेकिन टी20 वर्ल्ड कप स्थगित होने के बाद जो विंडो खाली हुआ उसमें आइपीएल के आयोजन को फिट किया गया। अब इसकी तारीख की भी घोषणा कर दी गई है और न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया व साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को इस लीग में खेलने के लिए एनओसी देने का भी एलान कर दिया है। 

भारत में आइपीएल खेलने को लेकर दूसरे देश के खिलाड़ी उत्साहित रहते हैं, लेकिन इस बार यूएई में होने की वजह से उन्हें भारत में आने का मौका नहीं मिलेगा। इस बात को लेकर राजस्थान रॉयल्स के कप्तान व ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के धुरंधर बल्लेबाज स्टीव स्मिथ निराश हैं। राजस्थान की टीम पर एक डॉक्यूमेंट्री बनाई गई है जिसका नाम इनसाइड स्टोरी रखा गया है। इसके प्रीमियर के मौके पर स्टीव स्मिथ ने कहा कि यूएई में खेलने को लेकर खिलाड़ियों को खुद को वहां के कंडीशन से तालमेल बिठाना होगा और ये ज्यादा बड़ी समस्या नहीं है। कोरोना महामारी की वजह से क्रिेेकेट भी बंद है और हर खिलाड़ी मैदान पर लौटने को बेताब है। 

उन्होंने कहा कि हम सब प्रोफेशनल खिलाड़ी हैं और कंडीशन चाहे कैसी भी हो उस हिसाब से सब खुद को ढ़ालना जानते हैं। यूएई की कंडीशन भारत की तरह भी हो सकती है और यहां से अलग भी हो सकती है। साल 2014 में आधे आइपीएल का आयोजन यूएई में हुआ था तो कुछ खिलाड़ियों को वहां खेलने का अनुभव होगा, लेकिन सबके साथ ऐसी बात नहीं है।  

स्टीव स्मिथ ने कहा कि अब चाहे परिस्थिति कैसी भी है मुझे लगता है कि हर खिलाड़ी अच्छी क्रिकेट खेलने के लिए रोमांचित होगा। हालांकि ये बेहद निराश करने वाली बात है कि इस बार इस शानदार लीग का आयोजन भारत में नहीं हो रहा है और सच कहूं तो हम यहां पर खेलना ज्यादा पसंद करते। स्मिथ इस साल आरआर की कप्तानी करते नजर आएंगे। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस