नई दिल्ली, प्रेट्र। कोविड 19 महामारी की वजह से क्रिकेट पूरी तरह से बंद है। आइपीएल 2019 का आयोजन 29 मार्च से होना था, लेकिन महामारी की वजह से देश में 23 मार्च से लॉकडाउन हो गया और इस लीग को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। हालांकि अब इस लीग को लेकर काफी बातें की जा रही हैं और कहा जा रहा है कि ये कुछ महीनों के बाद संभव है, लेकिन सबकुछ हालात पर निर्भर करता है। 

अब आइपीएल को लेकर आइपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स के चेयरमैन पार्थ जिंदल ने अपनी बातें कही हैं। उन्होंने कहा है कि ये लीग कोविड 19 महामारी से जूझ रहे लोगों में उत्साह बढ़ाने में काफी बड़ी भूमिका अदा करेगा। इसके अलावा उन्होंने इस बात की उम्मीद जाहिर की है कि इसके लाइव एक्शन की वापसी जरूर होगी। 

पार्थ जिंदल ने दिल्ली कैपिटल्स के अधिकारिक इंस्टाग्राम पेज पर ‘लाइव चैट’ के दौरान कहा कि कोविड-19 महामारी  ने लाइव खेलों को मुश्किल दौर में पहुंचा दिया है, विशेषकर प्रशंसकों के लिहाज से। लाइव खेलों की इस तरह की जरूरत कभी भी महसूस नहीं की गयी और लोगों का मनोबल बढ़ाने के लिये यह अहमियत रखता है।

उन्होंने कहा वर्ल्ड में कई ऐसे भी कई देश हैं जो इस महामारी से भारत से ज्यादा प्रभावित हुए हैं और वे धीरे धीरे अपनी राष्ट्रीय लीग जैसे इंग्लैंड में प्रीमियर लीग और जर्मनी में बुंदेसलीगा बहाल कर रहे हैं। अमेरिका में भी एनबीए की बहाली की बातें शुरू हो गयी हैं। मुझे लगता है कि देश का उत्साह बढ़ाने में आइपीएल की बड़ी भूमिका हो सकती है। हालांकि ऐसी भी बातें सामने आ रही हैं कि आइपीएल का आयोजन अक्टूबर-नवंबर में कराया जा सकता है जो विंडो टी20 वर्ल्ड कप के लिये निर्धारित है। वैसे इस पर कोई ठोस फैसला नहीं हो पाया है, लेकिन सबकुछ हालात पर निर्भर है कि उस वक्त महामारी की स्थिति कैसी रहती है। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस