मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नॉटिंघम, अभिषेक त्रिपाठी। इंग्लिश कंडीशन भारतीय बल्लेबाजों के लिए हमेशा से सिरदर्द रही है और यहां के प्रदर्शन ने कई बड़े क्रिकेटरों का करियर खत्म किया है। ऐसा ही कुछ इस बार भी हो रहा है। अभी तक भारतीय टीम के स्थायी सदस्य रहे शिखर धवन, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, मुरली विजय, अजिंक्य रहाणे और हाल ही में टेस्ट टीम में शामिल हुए दिनेश कार्तिक का इस प्रारूप का करियर खतरे में है।

रहाणे ने तीसरे टेस्ट की पहली पारी में भले ही 81 रन बनाकर अपने ऊपर से दबाव कम कर लिया हो, लेकिन उन्हें इस मैच की दूसरी पारी के साथ-साथ बचे हुए दो टेस्ट मैचों में भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा।

भारत इंग्लैंड में तीन ओपनर मुरली विजय, शिखर धवन और केएल राहुल को लेकर आया। विजय ने दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ विदेश में 10 टेस्ट पारियों में केवल 128 रन बनाए हैं। वह इंग्लैंड में खेली पिछली चार पारियों में दो बार शून्य पर आउट हुए। धवन ने इस मैच से पहले इस साल दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट में 17.75 औसत से रन जुटाए।

वह तीसरे टेस्ट की पहली पारी में जरूर 35 रन बनाने में सफल हुए, लेकिन उनके सिर से तलवार हटी नहीं है। भारत से बाहर तेज गेंदबाजों के सामने उनकी समस्या अभी कम नहीं हुई है। बाहर जाती गेंदों के सामने उनका बल्ला डांस करता हुआ नजर आता है। 

घरेलू और सीमित ओवरों के क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद वर्षो बाद टेस्ट टीम में शामिल हुए कार्तिक पिछली चार पारियों में 00, 20, 01 और 00 पर आउट हुए। इस प्रदर्शन ने उनके टेस्ट करियर पर सवालिया निशान लगा दिए। यही कारण है कि तीसरे टेस्ट में उनकी जगह रिषभ पंत को शामिल किया गया। खराब प्रदर्शन के कारण पुजारा को पहले टेस्ट में नहीं खिलाया गया था। लॉ‌र्ड्स में वह 01 व 17 रन बनाकर आउट हुए। नॉटिंघम में भी वह पहली पारी में 14 रन पर आउट हो गए। 

वहीं, रहाणे ने पिछला शतक तीन अगस्त 2017 को श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में लगाया था। 13 पारियों बाद उन्होंने शनिवार को 81 रनों की पारी खेली। हालांकि अभी उनसे सवाल कम नहीं हुए हैं। इसके अलावा दिग्गज माइकल होल्डिंग ऑलराउंडर की हैसियत से खेल रहे हार्दिक पांड्या पर भी सवाल उठा चुके हैं।

होल्डिंग ने कहा था कि पांड्या टेस्ट ऑलराउंडर के काबिल नहीं हैं। उनकी बल्लेबाजी अच्छी नहीं हैं। वह भी तीसरे मैच की पहली पारी में 18 रनों पर आउट हुए। इस समय अगर बल्लेबाजी की बात करें तो सिर्फ भारतीय कप्तान विराट कोहली ही फॉर्म में नजर आ रहे हैं। 

भारत के सहायक कोच संजय बांगर ने यह बात मानी है। उन्होंने कहा कि भारतीय बल्लेबाज काफी दबाव में हैं और इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट में शर्मनाक हार के बाद अपने करियर के लिए खेल रहे हैं। जब चीजें आपके पक्ष में नहीं हो रही हों तो यह महत्वपूर्ण है कि आप धैर्य बरकरार रखें। चीजें सही हों या नहीं, समान रवैया बरकरार रखें। अपना संतुलन बनाए रखें, इससे मदद मिलती है।

बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन ने सहयोगी स्टाफ पर सवालिया निशान लगा दिया है, लेकिन बांगर ने कहा कि हम सभी को पता है कि ऐसी कोई जादू की छड़ी नहीं है जिसे हम किसी बल्लेबाज पर घुमा दें। आपको समझना होगा कि पिछले पांच टेस्ट जो हमने विदेशी सरजमीं पर खेले हैं, उनमें से सेंचुरियन टेस्ट के छोड़कर बाकी सभी मुश्किल हालात में खेले गए।

जोहानिसबर्ग टेस्ट को देखो जो हमारे समूह का मानना है कि हमारे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में से एक है, रनों की संख्या के मामले में नहीं, लेकिन मुश्किल हालात में दर्ज की गई जीत के कारण।

दबाव से निपटना होगा 

बांगर ने कहा कि दबाव से निपटना किसी भी पेशेवर काम का हिस्सा है और हम हरसंभव प्रयास करने की कोशिश करते हैं। हम सहयोग दे सकते हैं या रणनीति बना सकते हैं। बांगर ने कहा कि तीसरे टेस्ट में महत्वपूर्ण यह रहा कि सलामी साझेदारी हमारी उम्मीद के मुताबिक रही। पहले दो टेस्ट में हम शुरुआती 15 ओवर के भीतर दो या तीन विकेट गंवा रहे थे और मध्य क्रम में मुश्किल हालात में हमें जल्दी विकेट पर उतरना पड़ रहा था। विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे ने मिलकर चौथे विकेट के लिए 159 रन की साझेदारी की

द. अफ्रीका और इंग्लैंड के हालिया दौरों में प्रदर्शन खिलाड़ी, मैच, पारी, पारियों में स्कोर, कुल रन 

मुरली विजय, 5, 10, (0, 0, 6, 20, 25, 8, 9, 46, 13, 1), 128

शिखर धवन, 3, 5, (35, 13, 26, 16, 16), 106

केएल राहुल, 5, 9, (23, 10, 8, 13, 4, 18, 0, 4, 10), 90

चेतेश्वर पुजारा, 5, 9, (14, 17, 1, 1, 50, 19, 0, 4, 26), 82

अजिंक्य रहाणे, 4, 7, (81, 13, 18, 2, 15, 48, 9), 186

हार्दिक पांड्या, 6, 11, (18, 26, 11, 31, 22, 4, 0, 6, 15, 1, 93), 227

दिनेश कार्तिक, 2, 4, (0, 1, 20, 0,), 21

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Lakshya Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप