नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर टेस्ट डेब्यू किया। सीनियर गेंदबाजों के चोटिल होने के बाद पहले ही सीरीज के महज तीसरे मुकाबले में उन्होंने टीम के गेदबाजी आक्रमण की कमान संभाली। ब्रिसबेन टेस्ट की दूसरी पारी में पांच विकेट हासिल कर टीम इंडिया के लिए मैच बनाया। सहवाग सिराज के प्रदर्शन के काफी खुश हैं और कहा कि दौरे के दौरान वह लड़के से परिपक्व खिलाड़ी बन गए।

जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और उमेश यादव के चोटिल होकर मैच से बाहर होने के बाद सिराज ने टीम के गेंदबाजी आक्रमण की कमान संभाली। शार्दुल ठाकुर, टी नटराजन, नवदीप सैनी के तेज गेंदबाजी आक्रमण में सिराज सबसे ज्याद अनुभवी था। उनको पास महज 2 टेस्ट खेलने का अनुभव था लेकिन उन्होंने सही समय पर विकेट चटकाते हुए भारत के लिए मौका बनाया।

सहवाग ने सिराज की तारीफ में ट्वीट करते लिए लिखा, इस दौरे पर लड़का एक परिपक्व आदमी बन गया। सिराज अपनी पहली ही सीरीज में टीम के गेंदबाजी आक्रमण की कमान संभाल रहे हैं और उन्होंने आगे बढ़कर नेतृत्व किया। जिस तरह से नए खिलाड़ियों ने इस दौरे पर भारत के लिए प्रदर्शन किया है इसे काफी लंबे समय तक याद रखा जाएगा। अगर ये ट्रॉफी को अपने पास बनाए रखते हैं को बात जम जाएगी।

ब्रिसबेन टेस्ट की दूसरी पारी में सिराज ने 19.5 ओवर में 73 रन देकर 5 विकेट हासिल किए। इस मैदान पर 2003 में जहीर खान ने एक पारी में 5 विकेट लिया था इसके बाद सिराज ऐसा करने वाले दूसरे तेज गेंदबाज बने हैं। सिराज ने इस दौरे पर तीन टेस्ट मैच में कुल 13 विकेट चटकाए हैं।

 

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप