नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का मानना है कि यदि विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम सकारात्मक बनी रहती है तो वह पहला टेस्ट मैच जीत सकती है। उन्होंने कहा, 'प्रत्येक खिलाड़ी को सकारात्मक रहना होगा। मैं कहूंगा कि भारत अब भी मैच जीत सकता है। पहले विकेट के लिए अच्छी साझेदारी और दो भागीदारियों से वे अच्छी स्थिति में पहुंच जाएंगे। यदि मुरली विजय और शिखर धवन चल जाते हैं तो फिर कुछ भी हो सकता है। उन्हें विश्राम के समय परिस्थितियों का आकलन करना चाहिए और बहुत आगे के बारे में नहीं सोचना चाहिए. 360 से अधिक का स्कोर बनाना आसान नहीं है, लेकिन चतुराई से बल्लेबाजी करिये और आपके पास चाय के विश्राम के बाद मौका रहेगा।

अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे कर्ण शर्मा के बारे में गावस्कर ने कहा, 'मुझे उसका रवैया पसंद है। वह रन पिटने पर डरता नहीं है। ऑस्ट्रेलिया में आपकी गेंदों की धुनाई होगी। वह निराश नहीं हुआ। मुझे लगता है कि सिडनी का विकेट उसके लिए अच्छा रहेगा। वह अच्छा गेंदबाज है। गावस्कर ने ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर नाथन लियोन की भी तारीफ करते हुए कहा, 'मैं नहीं मानता कि भारत स्पिन के आगे घुटने टेक गया। लियोन बहुत अच्छी गेंदबाजी की। उसे गेंदबाजी करते हुए देखकर अच्छा लग रहा था। यदि भारत 144 रन पर आउट हो जाता तो तब मैं कहता कि भारत ने स्पिन के आगे घुटने टेक दिए। लियोन पुराने जमाने के स्पिनरों जैसा है और मुझे पसंद है।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस