कैनबरा, प्रेट्र। भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के चोटिल ओपनर बल्लेबाज कम से कम पहले टेस्ट मैच में तो नहीं ही खेल पाएंगे। वार्नर के चोटिल होने के बाद टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने कहा कि, इसकी वजह से उनके उपर से दवाब कम हो गया है। उन्होंने कहा कि, इसमें हैरानी की कोई बात नहीं है कि मैं थोड़ी राहत महसूस कर रहा हूं। हमने पहले दो वनडे मुकाबले जीत लिए हैं और अब मुझे चिंता करने की जरूरत नहीं है कि टेस्ट टीम में किसका चयन होगा। 

भारत ए को 6 दिसंबर से ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ खेलना है तो वहीं ये टीम 11 दिसंबर से सिडनी में भारतीय टीम के खिलाफ डे-नाइट प्रैक्टिस मैच खेलेगी। लैंगर ने कहा कि, सबसे मुश्किल काम टीम का चयन करना है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ए की टीम भारतीय टीम के खिलाफ उतरेगी और इसमें शामिल खिलाड़ियों के पास अच्छा मौका है कि वो मुख्य टीम में जगह बनाने के लिए अपना दावा पेश कर सकें। उन्होंने कहा कि, पारी का आगाज करने का मौका उस बल्लेबाज को मिलेगा, जो मेहमान टीम के खिलाफ आने वाले प्रैक्टिस मैचों में ऑस्ट्रेलिया ए की ओर से अच्छा प्रदर्शन करेगा।

लैंगर ने कहा कि, डे-नाइट प्रैक्टिस मैच में जो भी खिलाड़ी खेलेंगे उनके पास अपना दावा पेश करने का मौका होगा। टेस्ट सीरीज की शुरुआत 17 दिसंबर से एडीलेड में डे-नाइट टेस्ट के साथ होगी। वॉर्नर की चोट पर लैंगर ने कहा, 'उसकी ग्रोइन में चोट लगी है और उन्होंने मुझे बताया है कि इस चोट में काफी तकलीफ होती है। ऐसा लगता है कि किसी ने उसे बंदूक से गोली मार दी है। वह ड्रेसिंग रूम में भी काफी तकलीफ में था।'

उन्होंने कहा, 'मुझे उसके पहले टेस्ट में खेलने की उम्मीद नहीं है, लेकिन वह पेशेवर खिलाड़ी है जो तैयार होने के लिए हर संभव कोशिश करेगा।' ऑस्ट्रेलिया की टी20 टीम में वॉर्नर की जगह डार्सी शॉर्ट को शामिल किया गया है। रिपोर्ट के अनुसार वॉर्नर को जैसी चोट लगी है उस तरह की चोट से उबरने में लगभग चार हफ्ते का समय लगता है और ऐसे में वह टेस्ट सीरीज के पहले दो मैचों से बाहर हो सकते हैं।

Aus-vs-Ind

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021