सुनील गावस्कर का कॉलम

इंग्लैंड में मौसम ने परेशानी खड़ी कर दी है और इस विश्व कप में कई टीमों की संभावनाओं को झटका दिया है। अंक साझा करने वाली कुछ टीमें ऐसी हैं, जो रद मैच से अंक हासिल कर संतुष्ट हैं। मगर जो टीमें शीर्ष-चार में जगह बनाने की कोशिश में जुटी हैं, उनके लिए यह एक अंक का नुकसान है। बारिश की वजह से दक्षिण अफ्रीका अपना खाता खोल सका, लेकिन वेस्टइंडीज की टीम जरूर इससे निराश हुई होगी।

इस विश्व कप में सिर्फ न्यूजीलैंड और भारत ने ही अभी तक कोई मैच नहीं गंवाया है और इनके बीच होने वाले मैच पर भी बारिश का खतरा बना हुआ है। वार्म अप मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को बेहद आसानी से हरा दिया था, लेकिन भारत ने विश्व कप में अच्छी शुरुआत की है और टीम अच्छी लय में दिख रही है। शिखर धवन का चोटिल होना एक बड़ा झटका है। इस बायें हाथ के बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार शतक बनाया था। हर व्यक्ति के दर्द सहने की एक सीमा होती है और धवन की तारीफ करनी होगी कि पारी की शुरुआत में अंगूठे में चोट लगने के बावजूद वह ऐसे बल्लेबाजी करते रहे, जैसे कुछ हुआ ही ना हो। यही चीज उम्मीद जगाती है कि वह इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले से पहले फिट हो जाएंगे। आइसीसी टूर्नामेंट में उनका रिकॉर्ड शानदार है और टीम प्रबंधन इस खिलाड़ी को चोट से उबरने का हर संभव मौका देगा।

जिस ढंग से ओपनरों ने शुरुआत दी और इसके बाद धवन ने कोहली के साथ साझेदारी की, उससे हार्दिक पांड्या को चौथे नंबर पर भेजा गया। अगर भारत एक बार फिर से इसी तरह की स्थिति में होता है, तो पांड्या को फिर से नंबर चार पर खिलाया जा सकता है। अगर भारत जल्दी विकेट गंवा देता है, तो विजय शंकर को मौका मिल सकता है। इस साल की शुरुआत में शंकर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्हीं के घर में अच्छी बल्लेबाजी की थी और वह उनके गेंदबाजी आक्रमण से परिचित हैं। यह चीज उनके पक्ष में जानी चाहिए। अगर आसमान में बादल रहते हैं, तो भारत कुलदीप यादव की जगह मुहम्मद शमी को टीम में शामिल कर सकता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप