नई दिल्ली। टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेकर सबको हैरान करने वाले महेंद्र सिंह धौनी की तारीफों के पुल बांधते हुए पूर्व दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने कहा कि इस विकेटकीपर बल्लेबाज को ऐसे कप्तान के रूप में जाना जाएगा, जिन्होंने उदाहरण पेश करते हुए टीम की अगुआई की और बयानबाजी पर ध्यान नहीं दिया।

द्रविड़ ने कहा कि वह ऐसे कप्तान हैं, जिनके नेतृत्व में खेलने में मुझे मजा आया। उन्होंने कहा, 'धौनी के बारे में एक चीज जो मुझे पसंद है वह यह है कि आपको जो दिखता है वही मिलेगा। कोई जटिलता नहीं, हमेशा उदाहरण के साथ अगुआई की। धौनी के नेतृत्व में खेलने की एक चीज जो मुझे सबसे अच्छी लगती थी वह यह थी कि वह आपको कभी ऐसी चीज करने के लिए नहीं कहते थे जो वह खुद नहीं कर सकते थे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मंगलवार को मेलबर्न में ड्रॉ समाप्त हुए तीसरे टेस्ट के बाद धौनी ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

द्रविड़ ने कहा, 'वास्तविकता यह है कि उनकी मौजूदगी में टीम बदलाव के दौर से गुजर रही थी और युवा खिलाड़ी आ रहे थे। वह कप्तान के रूप में ज्यादा बात नहीं करते और अपने काम से आपका सम्मान जीतने की कोशिश करते हैं। वह कभी पीछे नहीं हटते और ज्यादा बोलने में विश्वास नहीं करते। द्रविड़ ने कहा कि धौनी को छोटे शहरों के खिलाडिय़ों के लिए प्रेरणास्रोत होने का श्रेय जाता है। पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि रांची जैसे छोटे शहर से आकर भारत की कप्तानी करना और 90 टेस्ट मैच खेलना। मुझे लगता है कि उन्होंने कप्तानी के काम को और सम्मानित बना दिया।

द्रविड़ ने कहा कि धौनी के संन्यास की घोषणा से वह भी स्तब्ध थे। उन्होंने कहा कि अगर भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मौजूदा सीरीज गंवाई नहीं होती तो शायद धौनी अपने करियर पर फैसला करने में और समय लेते। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इसकी उम्मीद नहीं थी कि वह सीरीज के बीच में ऐसा करेंगे।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern