नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। ICC T20 World Cup 2021 में भारतीय टीम को पाकिस्तान के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा। भारत की इस हार से हर एक भारतीय निराश था, लेकिन भारत के कुछ हिस्सों में पाकिस्तान की जीत का जश्न पटाखे फोड़कर मनाया गया। इसको लेकर भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग नाखुश हैं और उन्होंने अपनी भड़ास इंटरनेट मीडिया के जरिए जाहिर की है।

वीरेंद्र सहवाग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट शेयर करते हुए लिखा है, "दिवाली के दौरान पटाखों पर प्रतिबंध है, लेकिन कल (रविवार, 24 अक्टूबर) भारत के कुछ हिस्सों में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के लिए पटाखे फोड़े गए थे। अच्छा वे क्रिकेट की जीत का जश्न मना रहे होंगे। तो दीपावली पर पटाखे चलाने में क्या हर्ज है। ऐसा पाखंड़ (हिपोक्रेसी) क्यों, सारा ज्ञान तब ही याद आता है।"

वहीं, पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने लिखा है, "जो लोग पाकिस्तान की जीत पर पटाखे फोड़ रहे हैं वो भारतीय नहीं हो सकते। हमें अपनी टीम के साथ खड़ा होना चाहिए।"

बता दें कि पाकिस्तान को विश्व कप के इतिहास में पहली बार भारत के खिलाफ जीत मिली है। इस जीत के बाद भारत के कुछ हिस्सों से ऐसी खबरें आई हैं कि पाकिस्तान की जीत पर पटाखे चलाए गए हैं और कुछ जगह लड़ाईयां भी हुई हैं। पाकिस्तान की जीत को भारत में सेलिब्रेट करना, ये किसी देशद्रोह से कम नहीं है। जाहिर है कि पाकिस्तान प्रेम के चलते पटाखे चलाए गए होंगे। निश्चित रूप से ऐसा तो नहीं है कि क्रिकेट के खेल के लिए ऐसा किया गया होगा। 

दूसरी सबसे बड़ी बात वीरेंद्र सहवाग ने ये उठाई है कि जब भारत में हिंदू धर्म के सबसे बड़े त्योहार दिवाली पर पटाखे बैन हैं तो फिर क्रिकेट के मैच के बाद पटाखे चलाने का क्या तुक है और वो भी भारत की जीत नहीं, बल्कि पाकिस्तान की जीत पर भारत में पटाखे चलाने के क्या मायने हैं।

Edited By: Vikash Gaur