लंदन, एपी। इंग्लैंड की टीम के सीमित ओवरों के कप्तान इयोन मोर्गन ने स्वीकार किया है कि अगर इस साल ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में प्रस्तावित टी20 वर्ल्ड कप अपने तय समय पर होगा तो वे हैरान होंगे। पिछले साल वनडे वर्ल्ड कप में इंग्लैंड की टीम को चैंपियन बनाने वाले कप्तान मोर्गन को लगता है कि इस साल टी20 वर्ल्ड कप नही खेला जाएगा, क्योंकि कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में है और एक जगह इतने खिलाड़ी एक साथ होंगे तो खतरा ज्यादा होगा।

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी को गुरुवार यानी आज फैसला लेना है कि टी20 वर्ल्ड कप 2020 का भविष्य क्या होगा। हालांकि, अगर मौजूदा कोरोना वायरस महामारी के परिदृश्य को देखा जाए तो संभव नहीं लगता कि इस साल ये ग्लोबल मेगा इवेंट आयोजित होगा, जिसमें 16 देशों को भाग लेना है। संभव नहीं है कि 16 देशों के खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ, ब्रॉडकास्टर और तमाम अधिकारियों को कैसे सुविधाएं दी जा सकेंगी, जिससे कि प्रकोप से बचा जा सके।

ऐसे में इयोन मोर्गन ने कहा है कि जहां 7 हजार से ज्यादा केस हों और 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी हो, वहां रिस्क हमेशा बनी रहेगी। शाइन चैरिटी को प्रमोट करने के दौरा मोर्गन ने कहा, "मुझे हैरानी होगी अगर ये अपने तय समय पर आयोजित होगा। इसके लिए मेरे कारण यह होंगे कि यदि आप देखें कि ऑस्ट्रेलिया ने कैसे महामारी को संभाला है, तो उन्होंने सीमाओं को बहुत पहले ही बंद कर दिया था, दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में सीमित संख्या में मामले और मौतें थीं।"

उन्होंने कहा है, "उनकी सबसे बड़ी चिंता आगे बढ़ने में है - एक विशाल सकारात्मक के लिए एक छोटा सा नकारात्मक - क्या वे लगभग यह नहीं जानते होंगे कि अगर वायरस का प्रकोप होता है तो इम्युनिटी क्या होगी। कई स्थानों पर 16 टीमों के पास कुछ उजागर करने की क्षमता है। यह फैलाने के लिए केवल एक मुट्ठी भर मामले हो सकते हैं, लेकिन जब आप देखते हैं कि यह कितनी तेज़ी से आगे बढ़ता है, तो आप विश्व कप खेलने या इसे स्थगित करने के मौके को कम कर देते हैं, (जो कि) शायद एक बड़ा सकारात्मक है। "

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस