पोर्ट एलिजाबेथ, पीटीआइ। तेज गेंदबाज एंदिल फेलुक्वायो ने कहा है कि दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज पांचवें वनडे में ज्यादा आत्मविश्वास के साथ उतरेंगे, क्योंकि उन्होंने भारतीय स्पिनरों के खिलाफ की गई गलतियों से सीख ली है। पूरी सीरीज में ऐसा पहली बार हुआ जब चौथे वनडे में भारतीय स्पिनर युजवेंद्र सिंह चहल और कुलदीप यादव महंगे साबित हुए थे।

फेलुक्वायो ने कहा कि आखिरी मैच से हमने अच्छी लय हासिल कर ली है। हम बहुत दूर से चौथे वनडे में जीत के करीब पहुंचे क्योंकि हमने नेट पर काफी अभ्यास किया और खासकर स्पिनरों के खिलाफ हमने काफी मेहनत की। आखिरी मैच के बाद से हम सकारात्मक रहना चाहते हैं। हम गेंद को देखकर उसको सीधा खेल रहे हैं।

दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर ने कहा कि हमारे पास अच्छे आंकड़े हैं और मैच की रणनीति अच्छी है। हां वांडरर्स से जरूर यहां के हालात थोड़े अलग हैं। ऐसे में हमारे पास अच्छी रणनीति है। उन्होंने कहा कि आपको पिछले मैचों के नतीजे पर गौर करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह एक नया मुकाबला होगा। ऐसे में आपको कुछ नया करने की जरूरत है। हमें विकेट के बारे में पता है।

महंगे साबित हुए थे चहल और कुलदीप  

फेलुक्वायो ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि चौथे मैच में कुलदीप और चहल मे मिलकर 11.3 ओवर में 119 रन लुटाए थे। माना कि इस मुकाबले में दोनों भारतीय स्पिन गेंदबाज़ महंगे साबित हुए, लेकिन फेलुक्वायो शायद ये भूल गए कि चौथे मुकाबले से पहले इन दोनों स्पिन गेंदबाज़़ों ने ही द. अफ्रीका की नाक में दम कर रखा था। जोहानिसबर्ग में भी भारतीय स्पिनर्स को 3 विकेट मिले थे और उससे पहले खेले गए तीनों मुकाबलों में कुलदीप और चहल की जोड़ी ने मिलकर 21 विकेट चटकाए थे। इसके साथ ही साथ जोहानिसबर्ग में बारिश के बाद गेंद गीली हो गई थी, जिसके चलते स्पिन गेंदबाज़ों को गेंद को ग्रिप करने में परेशानी हो रही थी।

इस वजह से फेलुक्वायो दिखा रहे है आत्मविश्वास

पिछले मैच में फेलुक्वायो ने अपने बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया था। यही वजह है कि वो अब फेलुक्वायो कह रहे हैं कि उनकी टीम ने भारतीय स्पिनर्स का तोड़ खोज लिया है। फेलुक्वायो ने पिछले मुकाबले में अंत में बल्लेबाज़ी करते हुए सिर्फ 5 गेंदों पर ही 23 रन ठोक दिए थे। जिसमें 3 छक्के और 1 चौका भी शामिल था और खास बात ये है कि फेलुक्वायो ने ये सभी बाउंड्री भारतीय स्पिन गेंदबाज़ों के खिलाफ ही बटौरी थी और अब यही वजह है कि फेलुक्वायो का आत्मविश्वास काफी बढ़ा हुआ नज़र आ रहा है और वो कह रहे हैं कि उनकी टीम ने भारतीय स्पिन गेंदबाजों का तोड़ खोज लिया है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal