लंदन, जेएनएन। संन्यास लेने की घोषणा कर चुके इंग्लैंड के बल्लेबाज एलिस्टेयर कुक ने कहा है कि उन्हें जसप्रीत बुमराह को धन्यवाद कहना है क्योंकि इस तेज गेंदबाज के ओवरथ्रो के कारण उन्होंने अपने करियर की अंतिम टेस्ट पारी में शतक पूरा किया और कुछ मुश्किल हालात से बच गए।

कुक जब 96 रन बनाकर खेल रहे थे तब उन्होंने रविंद्र जडेजा की गेंद को एक रन के लिए खेला लेकिन बुमराह ने स्टंप पर तेज थ्रो की और इसके बाद ओवरथ्रो से बल्लेबाज को पांच रन मिले। इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि वह इस ओवरथ्रो के लिए बुमराह को धन्यवाद देना चाहते हैं।

कुक ने कहा, ‘मुझे याद है कि कट करके मैं 97 रन पर पहुंचा और मुझे तीन रन और चाहिए थे। तभी उसने (बुमराह ने) थ्रो किया। यह काफी तेज थी। मैंने खुद से इंतजार करने को कहा। जैसे ही मैंने देखा कि रवि (जडेजा) इसके आसपास नहीं है, मैंने खुद को इंतजार करने को कहा।’

इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘इसने (ओवरथ्रो ने) मुझे काफी परेशानी से बचा लिया। उसने (बुमराह) इस श्रृंखला के दौरान मुझे काफी परेशान किया। उसके वहां मुझे वह लम्हा देने के लिए मैं उसे धन्यवाद देना चाहता हूं।’ कुक ने कहा कि उनके संन्यास की घोषणा करने के बाद से उनका जिस तरह स्वागत हुआ उस पर विश्वास नहीं हो रहा और वह सभी के आभारी हैं कि अच्छे प्रदर्शन के साथ विदाई ले रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘मैं उन भावनाओं का जिक्र नहीं कर सकता जिन्हें पिछले कुछ दिनों में मैंने महसूस किया। यह मेरे जीवन के चार शानदार दिन रहे। आज जो हुआ और पिछले चार दिन के दौरान मेरा जो स्वागत हुआ वह शानदार था। यहां तक कि अंतिम कुछ ओवरों में जब सभी दर्शक ‘बार्मी आर्मी’ का गाना गा रहे थे तो यह विशेष था।’

पहले और आखिरी टेस्ट में शतक लगाने वाले खिलाड़ी

104 / 146 रैगी डफ (ऑस्ट्रेलिया)

110 / 266 बिल पोंसफोर्ड (ऑस्ट्रेलिया)

108 / 182 ग्रैग चैपल (ऑस्ट्रेलिया)

110 / 102 मोहम्मद अजहरूद्दीन (भारत)

104*/  147 एलिस्टेयर कुक (इंग्लैंड)

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal