नई दिल्ली, जेएनएन। भारत में 2021 में टी20 वर्ल्ड कप और 2023 में वनडे वर्ल्ड कप खेला जाएगा और अभी इसमें काफी वक्त है, लेकिन कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से मांग कर दी थी कि वो लिखित तौर पर ये बताएं कि उनके खिलाड़ियों को वीजा को लेकर किसी भी तरह की मुश्किलों का सामना नहीं करना होगा। पाकिस्तान के इस बयान पर उनकी खूब किरकिरी भी हुई थी, लेकिन अब पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा का कहना है कि पीसीबी को भारत में अपनी क्रिकेट की टीम सुरक्षा को जरा सा भी परेशान नहीं होना चाहिए। 

आकाश चोपड़ा ने बताया कि बीसीसीआइ ने अब इतनी दूर का सोचा नहीं है और ना ही इसे लेकर कोई फैसला किया है। इसके पीछे की वजह से है कि कोविड-19 महामारी के संकट से पूरी दुनिया इस वक्त जूझ रही है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की टीम जब भी भारत आएगी मुझे नहीं लगता कि उन्हें सुरक्षा संबंधी किसी भी तरह की दिक्कत का सामना करना होगा। इस बात की पूरी गारंटी है कि उन्हें पूरी सुरक्षा उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि बोर्ड ने इस मामले में पर अभी कुछ नहीं कहा क्योंकि इस पर फिलहाल कुछ भी कह पाना मुश्किल है। आने वाले समय में क्या होगा किसी को पता नहीं है। उन्होंने साफ किया कि पहले टी20 वर्ल्ड कप को लेकर कुछ फैसला किया जाए, फिर सुरक्षा को लेकर बात होगी। 

आपको बता दें कि पीसीबी ने जब भारत को वीजा संबंधी गारंटी देने की बात कही थी तब बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा था कि क्या पीसीबी इस बात की गारंटी दे सकता है कि पड़ोसी देश के किसी तरह की कोई आतंकी गतिविधि नहीं होगी। सीमा पर किसी भी तरह की घुसपैठ नहीं होगी, सीजफायर का उल्लंघन नहीं किया जाएगा। भारत और पाकिस्तान के बीच राजनीतिक गतिरोध जारी है जिसकी वजह से दोनों टीमें सिर्फ आइसीसी और एशिया कप टूर्नामेंट के दौरान की एक-दूसरे के खिलाफ खेलते हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस