रायपुर। सरकारी स्कूलों में प्रेयर के बाद अब समाचार पढ़े जाएंगे। बच्चों को देश-दुनिया के प्रमुख खबरों की जानकारी दी जाएगी। बच्चों के सामान्य ज्ञान ठीक करने के उद्देश्य से जिले के स्कूलों में यह व्यवस्था शुरू होने वाली है। जिला शिक्षा विभाग ने इस संबंध में स्कूलों को पत्र भेजा है।

बताई जाती है देश-दुनिया से संबंधित मुख्य खबरें

वर्तमान समय में शहर के बड़े प्राइवेट स्कूलों में ऐसी व्यवस्था है, जहां प्रेयर के तुरंत बाद बच्चों को देश-दुनिया से संबंधित मुख्य खबरें बताई जाती है। इसमें स्पोर्ट्स से लेकर सामान्य ज्ञान से जुड़ी खबरों पर ज्यादा जोड़ दिया जाता है। सरकारी स्कूलों में भी कुछ इसी तर्ज पर सामान्य ज्ञान का पाठ पढ़ाया जाएगा। जिला शिक्षा विभाग के अफसरों ने बताया कि स्कूलों में सामान्य निरीक्षण या औचक निरीक्षण के दौरान जब बच्चों से सामान्य ज्ञान से जुड़ी बातें पूछी जाती है, तो वे यहां कमजोर पड़ते हैं।


यह स्थिति राजधानी के ज्यादातर सरकारी स्कूलों में देखने को मिलती है। इसे ठीक करने की जरूरत है। इसी उद्देश्य को लेकर स्कूलों में प्रेयर के तुरंत बाद समाचार का वाचन कराने की व्यवस्था की जा रही है। प्रतिदिन एक शिक्षक प्रेयर के दौरान प्रमुख समाचार का वाचन करेंगे। दूसरे शिक्षक द्वारा दो सामान्य ज्ञान से जुड़ी बातें बताई जाएंगी। इसमें बच्चों को भी बारी-बारी से समाचार वाचन का मौका दिया जाएगा। जिला शिक्षा अधिकारी एएन.बंजारा ने बताया कि बच्चों में सामान्य ज्ञान, वाक्य पढ़ने-लिखने, पहाड़ा बोलने की कमी है। इस कमी को दूर करना जरूरी है। इसे लेकर स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं।


प्राचार्यों की बैठक जल्द :

स्कूलों में तिमाही परीक्षा पिछले दिनों हुई। चार यूनिट को आधार मानकर बच्चों की परीक्षा ली गई। अब इनके नतीजों के आधार पर समीक्षा होगी।
जिला शिक्षा विभाग के अफसरों ने बताया कि इसमें प्राचार्यों को बुलाकर उनके स्कूल के परफॉरमेंस की बात की जाएगी। परिणाम के आधार पर स्कूल बच्चों की एक रिपोर्ट तैयार करेंगे। इसमें जो बच्चे बोर्ड परीक्षा में अच्छा कर सकते हैं या जो कमजोर हैं उसके आधार पर उन्हें तैयारी कराई जाएगी।


लिखेंगे ईमला, जांचेंगे एक-दूसरे की कॉपी
सरकारी स्कूलों के बच्चों को हिंदी व अंग्रेजी के पीरियड में शिक्षक ईमला लिखवाएंगे। इसके बाद बच्चों एक-दूसरे की लिखी कापियों की जांच करेंगे। ईमला पांच पंक्ति से ज्यादा का नहीं होना चाहिए। इसके बाद इस विषय की क्लासेस चलेगी। प्रतिदिन यही सिस्टम रहेगा। इस संबंध में भी स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा गणित के पीरियड में सामूहिक रूप से बच्चों को प्रतिदिन पहाड़ा याद कराया जाएगा।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप